Home > Archived > सैफुल्लाह के पिता ने कहा गृहमंत्री का शुक्रिया, हमारे मंत्री बड़े नेक दिल!

सैफुल्लाह के पिता ने कहा गृहमंत्री का शुक्रिया, हमारे मंत्री बड़े नेक दिल!

 शिव कुमार मिश्र |  2017-03-09T17:33:24+05:30  |  New Delhi

सैफुल्लाह के पिता ने कहा गृहमंत्री का शुक्रिया, हमारे मंत्री बड़े नेक दिल!

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को लखनऊ एनकाउंटर में मारे गए आतंकी सैफुल्लाह के पिता मोहम्मद सरताज की तारीफ की है। उन्होंने तारीफ करते हुए कहा कि मोहम्मद सरताज पर हम सभी को नाज है और पूरा सदन सैफुल्लाह के पिता के प्रति सहानभुति व्यक्त करेगा और मैं भी करता हूं। इसके जवाब में कानपुर में रहने वाले मोहम्मद सरताज ने गृह मंत्री का धन्यवाद किया और कहा, "उनका शुक्रिया। ये संदेश पूरे भारत के लिए होना चाहिए कि हमारे मंत्री छोटे-छोटे लोगों को इज्जत देते हैं।" गौरतलब है कि सैफुल्लाह की लखनऊ में 12 घंटे चले एनकाउंटर के बाद मौत हो गई थी। उसके कमरे से आठ पिस्तौल, 630 कारतूस और अन्य सामग्री जिसमें 1.5 लाख रुपए, लगभग 45 ग्राम सोना, तीन मोबाइल फोन, चार सिमकार्ड, दो वाकीटॉकी सेट और कुछ विदेशी मुद्रा आदि बरामद की गई थी। सैफुल्ला मंगलवार को मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले में भोपाल..उज्जैन ट्रेन में हुए विस्फोट मामले में संदिग्ध था।


सैफुल्लाह के पिता ने बेटे का शव लेने से भी इंकार कर दिया था और कहा था कि जो अपने देश का नहीं हुआ, वह हमारा कैसे होगा। सदन में राजनाथ सिंह ने कहा, "हमें सैफुल्लाह के पिता के प्रति पूरी सहानुभूति है.देश को ऐसे पिता पर नाज है।" गृह मंत्री ने कहा कि यह घटनाक्रम राज्य पुलिस और केंद्रीय एजेंसियों के बीच समन्वय का उत्तम उदाहरण है। गृह मंत्री ने बताया कि संदिग्धों से की गई पूछताछ तथा अन्य उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा लखनऊ, इटावा, कानपुर और औरैया में विभिन्न स्थानों पर कार्रवाई की गई।


उन्होंने बताया कि लखनऊ के काकोरी थानार्न्तगत हाजी कालोनी स्थित एक मकान में कानपुर निवासी मोहम्मद सैफुल्ला उर्फ अली के किराये पर रहने की सूचना प्राप्त हुई। एटीएस उत्तरप्रदेश द्वारा उक्त मकान की घेराबंदी की गई और संदिग्ध सैफुल्ला को गिरफ्तार करने के भरसक प्रयास किये गए। लेकिन उसने आत्मसमर्पण करने से इंकार किया और एटीएस पर गोलीबारी की। राजनाथ ने बताया कि अंतत: लगभग 12 घंटे के अथक प्रयास के पश्चात एटीएस टीम ने सैफुल्ला के कमरे में प्रवेश किया तथा आमने सामने की मुठभेड़ में इस संदिग्ध आतंकी को मार गिराया।

Share it
Top