Home > Archived > अमर सिंह बोले, अखिलेश यादव से इजाजत लेकर ही मुझसे मिलने आएं 'मुलायम सिंह'

अमर सिंह बोले, अखिलेश यादव से इजाजत लेकर ही मुझसे मिलने आएं 'मुलायम सिंह'

 Arun Mishra |  2017-02-11T12:21:25+05:30  |  नई दिल्ली

अमर सिंह बोले, अखिलेश यादव से इजाजत लेकर ही मुझसे मिलने आएं मुलायम सिंह

नई दिल्ली : उत्तरप्रदेश में जारी प्रथम चरण के मतदान में साहिबाबाद विधानसभा सीट पर वोट डालने पहुंचे अमर सिंह ने कहा, मैं मुलायम से अब नहीं मिलता, अगर वह मुझसे मिलना चाहते हैं तो अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से इजाजत लेकर मिलें। अमर ने इस दौरान अखिलेश यादव पर भी जमकर निशाना साधा।

'इधर कुआं, उधर खाई'
अमर सिंह से पूछा गया कि आप मुलायम से दूरी क्यों बनाए हुए हैं। इस जवाब में उन्होंने कहा- मैं मुलायम से नहीं मिलता तो आप कहते हैं दूरी हो गई है, मिलता हूं तो अखिलेश कहते हैं कि मैंने नेताजी को भड़का दिया। 'मेरी स्थि‍ति इधर कुआं, उधर खाई वाली हो गई है। इसलिए मैं कहता हूं कि कि अगर मुलायम सिंह जी को मुझसे मिलना हो तो वो अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष (अखिलेश यादव) से इजाजत लेकर मिलें। इस मुलाकात के वक्त खुद अखिलेश भी अपने दूत को मौजूद रखें, ताकि मीटिंग के बाद कोई बतंगड़ न बने।

अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए अमर सिंह ने कहा कि मुझे खलनायक की तरह पेश किया गया। मां-बहन की गालियां दी गईं। बुजुर्गों का अपमान भारत की परंपरा नहीं है। अखिलेश याद करें कि राम का सम्मान इसलिए होता है क्योंकि उन्होंने पिता के कहने पर सत्ता छोड़ वनवास जाना मंजूर किया। श्रवण कुमार ने माता-पिता की सेवा की। भीष्म ने पिता के वचन के लिए विवाह नहीं किया।

तो क्या अखिलेश ने अमर सिंह को वनवास भेज दिया है? इस सवाल पर अमर ने कहा कि ऐसी बातें न करें। वनवास उसको भेजा जा सकता है जिसका पेशा ही राजनीति हो। मेरा खुद का काम है, बिजनेस है मैं वो करूंगा वनवास नहीं है ये मेरा।

Tags:    
Share it
Top