Home > Archived > अल्पसंख्यक विकास मंच ने शहाबुद्दीन की रिहाई को लेकर सरकार के ख़िलाफ़ खोला मोर्चा

अल्पसंख्यक विकास मंच ने शहाबुद्दीन की रिहाई को लेकर सरकार के ख़िलाफ़ खोला मोर्चा

 Special Coverage News |  13 Nov 2016 3:38 AM GMT  |  New Delhi

अल्पसंख्यक विकास मंच ने शहाबुद्दीन की रिहाई को लेकर सरकार के ख़िलाफ़ खोला मोर्चा

शेखपुरा. ललन कुमार: कई संगीन मामलो के आरोपी सिवान के पूर्व राजद सांसद शहाबुद्दीन की रिहाई के लिए शेखपुरा अल्पसंख्यक विकास मंच ने सरकार के ख़िलाफ़ मोर्चा खोलते हुए अबिलम्ब उसकी रिहाई की माँग की। इसके लिए अल्पसंख्यक विकास मंच से जुड़े करीब ढाई दर्जन लोंगो ने शहर के चांदनी चौक पर एक दिवसीय धरना दिया। धरने की अध्यक्षता मो. व्हाबुद्दीन ने की।इस धरने में राजद से जुड़े कई नेताओं ने भी हिस्सा लिया।

इसे भी पढ़ें साहेब गये जेल, मुख्यमंत्री नीतीश है फेल

धरने को संबोधित करते हुए नेताओं ने सरकार पर जमकर हमला किया ।नेताओं ने कहा कि सरकार मुस्लिम के नेताओं को देखना पसंद नहीं करती है। जो भी मुस्लिम नेता द्वारा आगे बढ़ने की कोशिश की जाती है सरकार उसे या तो एनकाउंटर करवा देती है या उसे जेल के सींकचों में कैद करवा देती है। शहाबुद्दीन के साथ भी वही हुआ। सरकार 11 साल तक जेल की सजा काटने के बाद भी शहाबुद्दीन को फिर से राजनितिक साजिश के तहत जेल भेजा है। शहाबुद्दीन केवल मुस्लिम के नेता नही थे बल्कि सभी जाति धर्म के नेता थे। सरकार जातिवाद ,हिन्दू मुस्लिम की भावना को बढ़ावा दे रही है। नेताओं ने कहा कि भारत केवल हिंदुओं का ही नही है। भारत की आजादी में केवल हिन्दू नेताओं का ही योगदान नही है ,बल्कि मुस्लिमो का भी योगदान है। नेताओं ने शहाबुद्दीन की रिहाई की मांग सरकार से की ।सरकार यदि उनकी रिहाई की पहल नहीं करती है तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें शाहबुद्दीन की रिहाई की मांग को लेकर बेदारी कारवां प्रदर्शन, लालू-नीतीश के खिलाफ लगे ना

आपको बताते चलें कि सिवान के व्यवसाई चन्द्र बाबू के दो बेटों को शाहबुद्दीन ने तेज़ाब से नहला कर हत्या कर दी थी इसी मामले में पटना हाई कोर्ट ने शहाबुद्दीन को जमानत दे दी थी। इस जमानत को लेकर सरकार की काफी किरकिरी हुई थी। जिसके बाद राज्य सरकार ने हाई कोर्ट के इस जमानत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट चली गयी। सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन के बेल को रद्द कर दिया ।जिसके चलते फिर से शहाबुद्दीन को जेल जाना पड़ा। इस मौके पर राजद जिलाध्यक्ष शंभु सिंह, राजद नेता आफ़्ताव आलम,अरुण चौहान, संजय गोप, मो.गजाली,मो शाबिर समेत अन्य अल्पसंख्यक मंच के लोग भी शामिल थे।

इसे भी पढ़ें में अल्लाह के सिवा किसी से नहीं डरता - शाहबुद्दीन

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top