Home > Archived > मोदीजी, कौन सा लोकतंत्र गढ़ रहे हो? जरा शर्म करो- लालूप्रसाद

मोदीजी, कौन सा लोकतंत्र गढ़ रहे हो? जरा शर्म करो- लालूप्रसाद

 शिव कुमार मिश्र |  4 Nov 2016 9:43 AM GMT  |  पटना

मोदीजी, कौन सा लोकतंत्र गढ़ रहे हो? जरा शर्म करो- लालूप्रसाद

पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमों लालूप्रसाद यादव ने पीएम मोदी पर हमला बोला. लालू ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि मोदीजी, कौन सा लोकतंत्र गढ़ रहे हो? लोकलाज से लोकराज चलता है. लोकतंत्र में लोकशर्म को दरकिनार नही कर सकते. देश में इमरजेंसी जैसे हालात है.




लालू ने कहा कि अभिव्यक्ति व गैरसरकारी संस्थाओं की आजादी को जिसने भी कुचलने का प्रयास किया है. उनको न्यायप्रिय जनता ने क्या सबक सिखाया,इनको भूलना नही चाहिए.संविधान की धज्जियाँ उड़ा रही है केंद्र सरकार।लोकतांत्रिक रूप से चुने हुए राज्य के मुखिया को पीड़ितों से मिलने केकारण गिरफ्तार किया जा रहा है. ढाई साल में इतनी पतली हालत होगी,खुद इन्होंने दुर्दांत सपने में नहीं सोचा होगा.हेडलाइंस व मार्केटिंग की सरकार की ऐसी दुर्दशा होना लाजिमी है.




Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top