Top
Home > Archived > स्पेशल कवरेज न्यूज की खबर पर लगी मुहर, 27 लाख के काल धन को सफेद करने के दबाब को लेकर SBI ब्रांच मैनेजर पर कैशियर ने दर्ज कराई थाने में प्राथमिकी

स्पेशल कवरेज न्यूज की खबर पर लगी मुहर, 27 लाख के काल धन को सफेद करने के दबाब को लेकर SBI ब्रांच मैनेजर पर कैशियर ने दर्ज कराई थाने में प्राथमिकी

 Special Coverage News |  24 Nov 2016 4:15 AM GMT  |  New Delhi

स्पेशल कवरेज न्यूज की खबर पर लगी मुहर, 27 लाख के काल धन को सफेद करने के दबाब को लेकर SBI ब्रांच मैनेजर पर कैशियर ने दर्ज कराई थाने में प्राथमिकी

शेखपुरा.ललन कुमार: स्पेशल कवरेज न्यूज के संबाददाता ने सूत्रों के हवाले से खबर दी थी कि बैंक अफसर निर्धारित कमीशन पर काले धन को सफेद करने में जुटे हैं। इस खबर को स्पेशल कवरेज न्यूज ने प्रमुखता से प्रसारित किया था।


आज इस खबर पर मुहर लग ही गयी। शेखपुरा के स्टेशन रोड स्थित एसबीआई की कृषि शाखा के ब्रांच मैनेजर द्वारा 27 लाख के 500 और 1000 के नोटों को एक्सचेंज करने के लिए उसी बैंक के कैश अधिकारी पर बनाये जा रहे कथित दबाब को लेकर अनुसूचित जाति थाना में कैश पदाधिकारी ने एफाआईआर दर्ज कराई है।


इस मामले में एसपी राजेंद्र कुमार भील ने बताया कि एसबीआई के कृषि शाखा के कैश अधिकारी अर्जुन चौधरी द्वारा अपने ही शाखा के ब्रांच मैनेजर मनिंदर सिंह पर 27 लाख के 500 और 1000 के पुराने नोटों को बदलने को लेकर एफाआईआर दर्ज करवाई गयी है।पुलिस इसकी गहराई से बैंक में लगे सीसीटीवी के वीडियो फुटेज से जांच कर रही है। एसपी ने बताया कि कथित रूप से ब्रांच मैनेजर द्वारा 27 लाख के कालेधन को सफेद करने का काफी संगीन मामला है । इसे गंभीरता से लिया जा रहा है।



वहीँ इस मामले में कैश अधिकारी द्वारा कराए गए एफआईआर को लेकर बैंक मैनजर मनिंदर सिंह ने कहा कि कैश अधिकारी ही स्थानीय होने के चलते माफिया किस्म के लोगों के 27 लाख के पुराने नोटों को एक्सचेंज कर रहा था। ऐसा करने से उन्हें रोका गया जिसके चलते उनके खिलाफ बदसलूकी और 27 लाख के कालेधन को सफेद करने का कथित आरोप लगाकर एफआईआ करवाई गई है। मैनेजर ने कहा कि अर्जुन चौधरी जब मेन ब्रांच में पदस्थापित थे तो वे किसी के खाते से चुपके से गलत वाउचर भर कर राशि की निकासी को लेकर हमेशा विवादों में रहें हैं। वे भूमि खरीद बिक्री का कारोबार भी करते हैं। वे ही उनके ऊपर स्थानीय होने के चलते 27 लाख के नोटों को एक्सचेंज करने का दबाब बना रहे थे। नहीं माने जाने पर ही उनके खिलाफ कैश पदाधिकारी अर्जुन चौधरी द्वारा एफआईआर दर्ज करवाई गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गयी है।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it