Home > बीजेपी ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त 5 पार्षदों समेत 21 कार्यकर्ताओं को दिखाया बाहर का रास्ता

बीजेपी ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त 5 पार्षदों समेत 21 कार्यकर्ताओं को दिखाया बाहर का रास्ता

 Alok Mishra |  2017-04-16 06:36:09.0  |  new delhi

बीजेपी ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त 5 पार्षदों समेत 21 कार्यकर्ताओं को दिखाया बाहर का रास्ता

नई दिल्ली : दिल्ली में एमीसीडी चुनावों से पहले दिल्ली बीजेपी ने शनिवार को अपने 21 मेंबर्स को पार्टी से बाहर कर दिया.बीजेपी से निष्कासित कार्यकर्ताओं में 5 निवर्तमान पार्षद भी शामिल है. बीजेपी ने जिन पांच निवर्तमान पार्षदों को बाहर का रास्ता दिखाया है, उसमें पंकज सिंह, कृष्णा गहलोत , प्रवीण राजपूत , संध्या वर्मा और निक्की सिंह शामिल है.

ये सभी पार्षद बीजेपी के प्रत्याशी के खिलाफ ही चुनाव लड़ रहे है, जिससे पार्टी की मुसीबत बढ़ गई है. साथ ही बीजेपी ने दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष मनोज चौधरी को भी पार्टी-विरोधी गतिविधियों के चलते बाहर का रास्ता दिखा दिया है. बीजेपी ने कुल 21 कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की है.

नगर निगम चुनाव के लिए भाजपा ने मौजूदा पार्षदों, उनके रिश्तेदार और अन्य करीबियों को टिकट नहीं दिया था. पार्टी ने नए और युवा चेहरों पर दांव खेलते हुए नामांकन से कुछ घंटे पहले सभी प्रत्याशियों के नाम सार्वजनिक किए थे. इससे जिससे टिकट की आस लगाए कार्यकर्ता नाराज थे.

आखिरी वक्त पर टिकट का फैसला होने से बागी कार्यकर्ताओं को किसी अन्य दल से चुनाव लड़ने का मौका तक नहीं मिला. इसके बाद वे पार्टी विरोधी गतिविधियों में लग गए. साथ ही प्रत्याशियों के खिलाफ दुष्प्रचार करने में जुट गए. ऐसी शिकायतें मिलने के बाद पार्टी ने इस पर तुरंत संज्ञान लिया ताकि भितरघात करने वाले सचेत हो जाएं.

गौरतलब है कि इससे पहले उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से दस दिन पहले भाजपा 5 फरवरी को अपने 33 नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने के आरोप में निष्कासित कर दिया था. प्रदेश पार्टी महामंत्री नरेश बंसल ने बताया था कि प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के निर्देश पर 33 नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के कारण तत्काल प्रभाव से छह साल के लिए भाजपा से निष्कासित कर दिया गया है.

Tags:    
Share it
Top