Home > जम्मू-कश्मीर में अब नहीं चलेगी पेलेट गन, मिर्ची बम करेगा रिप्लेस

जम्मू-कश्मीर में अब नहीं चलेगी पेलेट गन, मिर्ची बम करेगा रिप्लेस

 Special Coverage News |  2016-08-26 06:42:28.0  |  जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में अब नहीं चलेगी पेलेट गन, मिर्ची बम करेगा रिप्लेस

जम्मू-कश्मीर: गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अगले कुछ दिनों के भीतर ही पैलेट गन का विकल्प पावा (PAVA) शेल्स से रिप्लेस करने की योजना पर काम लगभग पूरा कर लिया जायेगा। पावा शेल्स को सामान्य भाषा में 'मिर्ची के गोले' भी कहा जाता है और ये पेलेट गन के मुकाबले भीड़ से निपटने में ज्यादा असरदार माने जाते हैं। जम्मू-कश्मीर में पेलेट गन के इस्तेमाल से अभी तक करीब 1 हज़ार लोग ज़ख्मी हो चुके हैं। दर्जन भर से ज्यादा लोगों की आंखों की रोशनी जा चुकी है।

बता दें कि पावा शेल, मिर्ची के गोले हैं जिससे टारगेट को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचता। बताया जाता है कि इन गोलों को किसी टारगेट पर दागे जाने से वह कुछ मिनटों के लिए एकदम स्थिर हो जाता है और कुछ कर नहीं पाता। PAVA यानी पेलागॉर्निक एसिड वनीलल अमाइड को नॉनिवमाइड के नाम से भी जाना जाता है। यह प्राकृतिक काली मिर्च में पाया जाने वाला कार्बनिक यौगिक है। इसका प्रयोग किसी व्यक्ति को कुछ समय के लिए इरिटेट कर सकता है और वह थोड़ी देर तक कुछ न कर पाने की हालत में जा सकता है। इससे ज्यादा ये गोले हानि नहीं पहुंचाते।

Tags:    
Share it
Top