Home > Archived > काश दिल्ली में पूर्व सैनिक के आत्महत्या के बाद उत्पन्न हालात को बेहतर, परिपक्व, व्यवहारिक और निष्पक्ष तरीके से संभाला गया होता तो हमारी हालत ऐसी नहीं होती!

'काश दिल्ली में पूर्व सैनिक के आत्महत्या के बाद उत्पन्न हालात को बेहतर, परिपक्व, व्यवहारिक और निष्पक्ष तरीके से संभाला गया होता तो हमारी हालत ऐसी नहीं होती!

 Special Coverage News |  5 Nov 2016 9:19 AM GMT  |  New Delhi

काश दिल्ली में पूर्व सैनिक के आत्महत्या के बाद उत्पन्न हालात को बेहतर, परिपक्व, व्यवहारिक और निष्पक्ष तरीके से संभाला गया होता तो हमारी हालत ऐसी नहीं होती!

लोकसभा चुनाव के बाद से लगातार अपनी ही पार्टी को कोसते रहे बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर से बीजेपी की किरकिरी करने पर तुले हैं. इस बार शत्रुघ्न सिन्हा ने वन रैंक वन पेंशन (OROP) के मुद्दे पर बीजेपी को आड़े हाथों लिया. दिल्ली में पूर्व फौजी रामकिशन ग्रेवाल की आत्महत्या और इसके बाद अरविंद केजरीवाल और राहुल गांधी को हिरासत में लिए जाने पर शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी ही पार्टी की निंदा की है. बीजेपी सांसद ने कहा कि केंद्र में सरकार स्थायी नहीं है.



वन रैंक वन पेंशन के लिए आत्महत्या करने वाले रामकिशन ग्रेवाल और उसके बाद के राजनीतिक हालात पर ट्वीट करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने लिखा कि दिल्ली में उत्पन्न हालात को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था. जाहिर सी बात है शत्रुघ्न सिन्हा का निशाना खुद अपनी सरकार पर था. उन्होंने ट्वीट किया, 'काश दिल्ली में पूर्व सैनिक के आत्महत्या के बाद उत्पन्न हालात को बेहतर, परिपक्व, व्यवहारिक और निष्पक्ष तरीके से संभाला गया होता.'



स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top