Home > लो जी करलो बात अब तो अंदर से खबर आई है सभी नेता है आप (aap )के गंदे ,करते है अय्याशी

लो जी करलो बात अब तो अंदर से खबर आई है सभी नेता है आप (aap )के गंदे ,करते है अय्याशी

 alok mishra |  2016-09-05 07:12:50.0  |  New Delhi

लो जी करलो बात अब तो अंदर से खबर आई है सभी नेता है आप (aap )के गंदे ,करते है अय्याशी

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार की परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. पहले पूर्व मंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता संदीप कुमार की अश्लील सीडी के विवाद ने तो सरकार की छवि को खराब किया ही है साथ ही अब दूसरी ओर AAP के एक अन्य विधायक ने केजरीवाल को एक लेटर लिखकर उनकी रातों की नींद उड़ा दी है.

बिजवासन सीट से विधायक देवेंद्र सहरावत ने खत में कहा कि हालात छवि खराब करने वाले बन रहे हैं और खराब तत्वों को हटाने के लिए कार्रवाई किए जाने की ज़रूरत है. गौरतलब है कि यह वही देवेंद्र सहरावत हैं, जिन्होंने आम आदमी पार्टी से प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को निकाले जाने के तरीके के खिलाफ भी आवाज़ उठाई थी.

देवेंद्र सहरावत की चिठ्ठी के मुताबिक़ 4 मुद्दे

प्रिय अरविंद केजरीवाल जी,

मैं आपका ध्यान इन 4 मुद्दों की और लाना चाहता हूं.

1- मुझे पार्टी के ही कुछ वॉलेंटियर्स ने पंजाब में टिकट वितरण के दौरान हुए यौन शोषण के कुछ मामलों के बारे में बताया है. मैं पंजाब में कई लोगों से मिला और इन आरोपों की जमीनी हकीकत जानने की कोशिश की. मुछे लगता है कि आप और दिल्ली के बाकी एमएलए इस बात से अनजान है कि संजय सिंह, दुर्गेश पाठक और दिल्ली से बाकी पार्टी के रिप्रजेंटेटिव पंजाब में क्या-क्या कर रहे हैं.

2- दिलीप पांडे भी दिल्ली में कुछ ऐसा ही कर रहे हैं. उनके लड़कियों के साथ फोटो इंटरनेट पर, सोशल साइट्स पर सर्कुलेट हो रहे हैं और वो पार्टी के विधायकों के इलाकों में भी बेवजह दखलअंदाजी कर रहे हैं.

3- अब पार्टी की छवि और स्थिति सबसे सामने खराब हो रही है. पार्टी के गलत छवि के लोगों के खिलाफ अब एक्शन लेने का वक्त आ गया है.

4- संदीप कुमार सीडी स्कैंडल मामले में जिस तरह से आशुतोष ने सबके सामने सफाई की दलीलें दी है वो भी हमारे मूल्यों के खिलाफ है.

मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप कुछ ऐसा करें कि जिससे लोगों को ये अहसास हो कि हम अभी भी पॉलिटिक्स भी बदलाव ला सकते हैं.

भवदीय,

कर्नल देवेंद्र सहरावत, आम आदमी पार्टी विधायक, बिजवासन

देवेंद्र सेहरावत ने इस मामले को अन्ना हजारे के समक्ष भी उठाया है। अन्ना को पत्र लिख कर उन्होंने बताया है कि पार्टी भ्रष्टाचार और दुर्व्यवहार से घिरती जा रही है। उन्होंने लिखा है कि पार्टी के भीतर इस तरह के दुर्व्यवहार से वे बेहद दुखी हैं। पार्टी के महत्वपूर्ण पदों पर बैठे लोग और मंत्री व्यभिचार में घिरते जा रहे हैं। मेरे वोटर्स मुझसे सवाल पूछ रहे हैं।

पंजाब में पार्टी के नेताओं पर आरोप का ये पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी प्रदेश में पार्टी के बड़े एक नेता पर टिकट के लिए पैसे मांगने का आरोप लग चुका है। पंजाब में पार्टी के संयोजक रहे सुचा सिंह छोटेपुर पर टिकट के लिए रिश्वत मांगने का आरोप लगा था, जिसके बाद 26 अगस्त को उन्हें पार्टी के पद से हटा दिया गया ।

Tags:    
Share it
Top