Top
Breaking News
Home > Archived > रूठी बीबी को मनाने टॉवर पर चढ़ा पति

रूठी बीबी को मनाने टॉवर पर चढ़ा पति

 Arun Mishra |  30 Nov 2016 10:15 AM GMT  |  छतरपुर

रूठी बीबी को मनाने टॉवर पर चढ़ा पति

छतरपुर (जयप्रकाश) : आपने सुना होगा कि लोग अपनी रूठी हुई पत्नी को मनाने के लिए क्या कुछ नहीं करते पर एक युवक ने अपनी रूठी हुई पत्नी को मनाने के लिए अपनी जान तक जोखिम में डाल दी। और चढ़ गया टावर पर फिर क्या देखते देखते लोगों की भीड़ लग गई। मामला बड़ामलहरा थाना क्षेत्र के रिहायशी इलाके का है। जहाँ मोबाइल टॉवर पर एक युवक इसलिये चढ़ गया क्योंकि उसकी रूठी पत्नी ने उसके साथ ससुराल जाने से मना कर दिया। जिससे गुस्साया पति टॉवर पर चढ़ गया पुलिस एवं युवक के परिजनों की दो घण्टे की भारी मशक्कत के बाद युवक डेढ़ सौ फुट की ऊंचाई पर से नीचे सकुशल उतर आया।

जानकारी के अनुसार, छतरपुर निवासी राहुल पिता मुन्ना कुशवाहा चौबीस वर्षीय की चार माह पूर्व बड़ामलहरा निवासी गनपत कुशवाहा की लड़की रजनी से शादी हुई थी। शादी के कुछ दिन तक सब ठीक ठाक चला लेकिन चंद दिनों के बाद घरेलू काम काज को लेकर रजनी का पति समेत ससुरालियों से विवाद होने लगा। और वह बिना बताये ससुराल से मायके पिता के यहाँ आ गयी। जिसे दो सप्ताह पूर्व उसका पति उसे लेने आया तो रजनी एवम उसके माता पिता ने पन्द्रह दिन बाद भेजने की कह कर राहुल को चलता कर दिया।

पन्द्रह दिन बाद सोमवार को वह फिर ससुराल पत्नी को लेने आया तो फिर से ससुरालियों दुवारा लड़की को भेजने से मना कर दिया। जिससे छुब्ध होकर राहुल मंगलवार को दोपहर दो बजे अपनी ऑटो टेक्सी लेकर फिर से पत्नी को लेने आया तो पुनः पत्नी दुवारा उसके साथ जाने से मना कर दिया गया। जिस पर राहुल ने शराब पीकर नगर के व्यवसायी शील देवड़िया के बगीचे में खड़े टाटा डुकोमो के टावर पर लगभग डेढ़ सौ फीट ऊपर चढ़ गया और मोबाइल से इसकी जानकारी अपने परिजनों को देने लगा ।


युवक की आवाज आने पर जैसे ही लोगो की नजर उस पर गयी तो उन्होंने 100 न. डॉयल कर पुलिस को जानकारी दी। जिस पर मौके पर एसआई वी एस परस्ते पी एस आई मनोज यादव ए एस आई अरुण पुरोहित एम एल कुशवाहा एवम युवक का छोटा भाई दीपक फुफेरा भाई प्रेमनारायण विशालमौके पर आ गए और दो घण्टे की भारी मशक्कत के बाद युवक को उतारने में सफल हो सके।

पुलिस ने बुलाया युवक की पत्नी व सास ससुर को
थाना बड़ामलहरा में युवक की पत्नी रजनी व उसके माता पिता को बुला कर सुलह कराते हुए ससुराल भेजने के लिए राजी किया गया। इस सम्बन्ध में जब रजनी से पूछा गया तो उसने बताया मेरी तबियत खराब होने के वावजूद ससुराल पक्ष के लोग इलाज नही कराते वल्कि घर का काम कराते है। इसलिए जब तक मैं ठीक नही हो जाती तब तक ससुराल नही जाऊंगी। सभी के समझाने के बाद वह ससुराल जाने को राजी हो गयी ।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it