Top
Breaking News
Home > Archived > शहीद सुखराज की पत्नी बोली, सरकार से मेरी कोई मांग नहीं, मुझे गर्व है कि वह देश के लिए शहीद हुए

शहीद सुखराज की पत्नी बोली, सरकार से मेरी कोई मांग नहीं, मुझे गर्व है कि वह देश के लिए शहीद हुए

 Special Coverage News |  30 Nov 2016 10:38 AM GMT  |  नई दिल्ली

शहीद सुखराज की पत्नी बोली, सरकार से मेरी कोई मांग नहीं, मुझे गर्व है कि वह देश के लिए शहीद हुए

नई दिल्ली : जम्मू के नगरोटा में हुए आंतकी हमले में सात सैनिक शहीद हुए है। इनमें से एक शहीद पंजाब के बटाला का सुखराज सिंह है। घटना की खबर मिलने के बाद पूरे क्षेत्र में मातम का माहौल है लेकिन परिजनों का कहना है कि उन्हें अपने लाल पर गर्व है। शहीद हुए जवान सुखराज सिंह की पत्नी हरमीत कौर ने आज कहा कि सरकार से मेरी कोई मांग नहीं है। मुझे गर्व है कि वह देश के लिए शहीद हुए।


शहीद सुखराज के पिता भी फ़ौज में थे। वहीं सुखराज पिछले 13 वर्ष से सेना में सेवाएं दे रहें थे। शहीद की पत्नी हरमीत कौर का कहना है की पति की कमी तो हमेशा रहेगी लेकिन उसे अपने पति की शहीदी पर गर्व है। सुखराज सिंह की छुटी मंजूर हुई थी और बीते कल वह घर आने वाला था। बच्चो कों और परिवार को सुखराज का इंतज़ार था लेकिन माँ का कहना है की उसे नहीं पता था की बेटा किस हालात में घर वापिस आएगा। शहीद सुखराज सिंह पीछे पत्नी और दो बच्चो को छोड़ गया है।

गौरतलब हो कि नगरोटा में आतंकियों ने 16वें कोर के मुख्यालय के पास स्थित आर्मी की आर्टिलरी यूनिट पर मंगलवार सुबह हमला किया। इस हमले में दो अधिकारी समेत सात जवान शहीद हो गए। जिसमें सुखराज भी शामिल था।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it