Top
Breaking News
Home > Archived > इस बच्ची को नहीं मालूम, उसके पापा देश की सीमा पर शहीद हो गए

इस बच्ची को नहीं मालूम, उसके पापा देश की सीमा पर शहीद हो गए

 Special Coverage News |  24 Nov 2016 4:31 AM GMT  |  New Delhi

इस बच्ची को नहीं मालूम, उसके पापा देश की सीमा पर शहीद हो गए

कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) के भारतीय गश्ती दल पर घात लगाकर किए गए हमले में तीन जवान शहीद हो गए। शहीद गनर मनोज कुशवाहा और राइफलमैन शशांक कुमार सिंह यूपी के गाजीपुर जिले से थे जबकि तीसरे जवान प्रभु सिंह राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले थे।


पाकिस्तानी जवानों ने हमले के बाद प्रभु सिंह का शव क्षत-विक्षत कर दिया। जवान प्रभु सिंह का शव सरकटी अवस्था में मिला। एक महीने से भी कम समय में इस तरह की यह दूसरी घटना है जिससे देश में जनाक्रोश फैल गया है।


प्रभु सिंह राजस्थान के जोधपुर में शेरगढ़ के रहने वाले थे। प्रभु सिंह अपने घर में अकेले कमाने वाले थे और वह 4 साल पहले सेना में भर्ती हुए थे। प्रभु सिंह की शादी 2 साल पहले ही हुई थी। शहीद प्रभु सिंह की 10 महीने की छोटी बच्ची है। प्रभु का आज ही के दिन 23 नवंबर को जन्मदिन था। प्रभु सिंह के भावुक पिता ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मैंने देश के लिए अपना बेटा खो दिया है। भारत को अब पाकिस्तान को करारा जवाब देना चाहिए। प्रभु सिंह की इस छोटी बेटी को नहीं मालूम कि उसके पापा अब इस दुनिया में नहीं रहे।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it