Home > Archived > जयपुर नगर निगम में हेमंत गेरा चला रहा है लूट गिरोह

जयपुर नगर निगम में हेमंत गेरा चला रहा है लूट गिरोह

 Special Coverage News |  29 Oct 2016 4:08 AM GMT  |  New Delhi

जयपुर नगर निगम में  हेमंत गेरा चला रहा है लूट गिरोह

जयपुर मो हफीज व्यूरो चीफ राजस्थान

विश्व में अपनी भवन निर्माण एवं स्थापत्य कला की बेजोड़ कारीगरी के कारण विख्यात जयपुर शहर इन दिनों बेहाल है I राज्य की राजधानी जयपुर को विश्व में जवाहरात मंडी के लिए भी जाना जाता है I इन दिनों राजधानी के रखरखाव के लिए बने जयपुर नगर निगम में अर्थ पशु बने अधिकारी बैठे है I भृष्ठ निगम आयुक्त हेमंत गेरा ने जयपुर नगर निगम को अपनी लूट का केंद्र बना रखा है I अलीबाबा बने हेमंत गेरा की मण्डली के चालीस चोरो ने राजधानी में धमाल मचा रखा है I बिजली सामान खरीद, उद्यान रखरखाव, सफाई की बीट प्राणाली, निर्माणकार्यो के साथ नालो की सफाई में हर वर्ष कई सौ करोड़ रुपयों का भृष्टाचार किया जाता है I यहाँ गौरतलब होगा की कुछ समय पूर्व भृष्ठ हेमंत गेरा के भृष्ठ चरणों के प्रताप से नगर निगम जयपुर की सरकारी हिंगोनिया गौशाला में हजारो गाये अकाल मोत मर गई थी I तब भी कलियुगी रामभक्तों की सरकार का इस भृष्ठ को अभयदान मिला हुआ था जो आज भी जारी है I जयपुर शहर में अवैध निर्माण एक बड़ी समस्या है I



जयपुर शहर को बसाने वाले सवाई जय सिंह ने जयपुर शहर को बहुत खूबसूरती से बसाया था I परन्तु अब शहर की विरासत पूर्ण रूप से खतरे में है I शहर के बीचो बीच व्यवस्थित रूप से बनी चौकडीयों पुराणी हवेलियों के साथ शहर की सिटी वाल पर कब्जे कर लिए गए है I नगर निगम के सभी जोनो में प्रतिदिन लाखो रूपये अवैध निर्माण के रूप में वसूले जा रहे है I भृष्ठ हेमंत गेरा की लूट की मण्डली के सामने सर्वोच्च न्यायालय उच्च न्यायालय के आदेश ओर कानून बोने बन गए है I भवन निर्माण नियमो की पालना कराने वाले निगम के सभी जोन अधिकारी राजस्व अधिकारी गजधर लुटेरे है I निगम के मानसरोवर सांगानेर जोन में उच्च न्यायालय के आदेशो की होली जल रही है I जीरो सेट बैक के साथ सरकारी भूमि पर दिन दहाड़े कब्जे हो रहे है I सिविल लाइन जोन मोती डूंगरी जोन में जाली पंचायत पट्टो के बल पर सरकारी जमीन हडपने वाले जालसाजो के साथ नगर निगम के भृष्ठ मिल गए है I फर्जी पट्टो की जांच न करके उनका स्वामित्व स्थानान्तरण करने वाले खूब माल खा रहे है I उद्यान आयुक्त बद्री प्रसाद पर अब तक अनेक प्राथमिकी राज्य की भृष्टाचार निरोधक पुलिस दर्ज कर चुकी है I भृष्टाचार का हरफन मोला बद्री अपनी भृष्ठ कमाई से राज्य की भृष्टाचार निरोधक पुलिस है जो भृष्टाचार रोकने के लिए बनी है उस पुलिस को भी भृष्ठ बद्री प्रसाद खरीद लेता है I संघ के आदर्शवादी स्वायत शासन मंत्री राजपाल सिंह के साथ निगम के भृष्ठ महापोर निर्मल नाहटा भी निगम के भृष्ठो पर निर्मल ही बने हुए है I यहां गोरतलब होगा की भृष्टाचार के आरोप में जेल गए राज्य के भृष्ठ आई.ए.एस. निगम के पूर्व आयुक्त लाल चन्द असवाल के मुक़दमे में भृष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने निगम के 31 अधिकारीयों को भृष्टाचार का दोषी माना था I पूर्व गौशाला आयुक्त अनुसार तब राज्य की भृष्टाचार निरोधक पुलिस ने 2 करोड़ की घूस खाकर भृष्टाचार के खेल को फिक्स कर दिया था I निगम के भृष्ट अधिकारीयों में राज्य सरकार का भय नही रह गया है I



सूचना अधिकार के तहत अपने भृष्ट कारनामो की सूचना देने के बजाय निगम के भृष्ट सूचना आयोग में 25 हज़ार रूपये का जुर्माना भरना पसंद करते है I निगम के विद्याधर नगर जोन में निगम आयुक्त सोहन लाल राजस्व अधिकारी नवीन भारद्वाज तोफिक अहमद के साथ कनिष्ठ अभियंता का लूट गिरोह बना हुआ है I इनमें से तोफिक अहमद शराब पीकर भरद्वाज के साथ वार्ड न. 23 के अवैध निर्माणकर्ता के साथ शराब कबाब की दावत करता रहता है रिश्वत में रूपयो के साथ लड़की शराब की मांग की जाती है I राम नगर शोपिंग सेण्टर की आठ दुकानों की करोडो की सरकारी भूमि पर ये भृष्ट कब्जे करवा चुके है I इतना ही नही इन भृष्ठो की चंडाल चौकडी ने राज्य की वर्तमान सीएम व् पूर्व सीएम अशोक गहलोत के द्वारा उदघाटित राजीव आवास योजना की सरकारी भूमि के साथ योजना के मकानों पर भी कब्जे करवा दिए है I सीकर हाउस, बनीपार्क, झोटवाड़ा व् शास्त्री नगर में दिन रात जीरो सेट बेक पर तथा सरकारी भूमि पर कब्जे करके निर्माण हो रहे है I शास्त्री नगर वार्ड 23 में इस समय कई दर्जनों अवैध व्यवसायिक भवन बन रहे है I इन सबके पीछे भृष्ठ सोहन, तोफिक व नवीन भारद्वाज ने करोड़ो रुपयों की राशि वसूली है I


नवीन भरद्वाज का कहना है कि वह तो क्षेत्रीय विधायक व् मंत्री अरुण चतुर्वेदी के गृह जिले का है I इस कारण किसी कानून कायदे को मानने वाला नही हूँ I भारद्वाज वसूली राशि हेमंत गेरा के घर भी पहुंचाता है इस कारण वीडी जोन में इसकी वसूली का खोफ बना है I शास्त्री नगर सब्जी मंडी से लेकर लंकापुरी तक चालीस से ज्यादा अवैध व्यवसायिक भवन बनाए गए है I भट्टा बस्ती थाने के रोड पर तथा मकान न. 747-727 राम नगर की गली में अनेक अवैध मकान बन गए है 1 क 46,43,33,31 हाउसिंग बोर्ड सब्जी मंडी मकानों को तोड़कर वहा अवैध व्यावसायिक भवन बन गए है सम्पूर्ण वार्ड न. 23 में अवैध निर्माण की बाढ़ आई हुई है I गुर्जर बस्ती शास्त्री नगर में पार्क की जमीन पर तोफिक ने जाली पट्टो से कब्जे करवा दिए है I कुछ दिनों पूर्व तोफिक ने निगम में सविंदा पर कार्यरत एक महिला का हाथ शराब के नशे में पकड़ लिया I शराब के नशे में तोफिक ने अन्तरंग पलो के आनंद का कुछ जयादा ही बखान कर दिया था I इस कारण अब उस महिला ने जल्दी ही निगम से घर जाना शुरू कर दिया है I ये भृष्ठ निगमकर्मी रोज शाम को वी.डी.जोन में शराब की दावते करते है I I सम्पूर्ण क्षेत्र में भृष्ठ निगम कर्मियों के कारण राज्य सरकार की छवि तारतार हो रही है I क्या स्वायत शासन मंत्री व् मुख्यमंत्री इस ओर ध्यान देंगे ?

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top