Home > यहां पंचायत में सिर्फ पांच जूते मारकर छोड़ दिए जाते हैं 'रेप' के आरोपी

यहां पंचायत में सिर्फ पांच जूते मारकर छोड़ दिए जाते हैं 'रेप' के आरोपी

 Special Coverage News |  2016-09-03 12:05:09.0  |  यूपी

यहां पंचायत में सिर्फ पांच जूते मारकर छोड़ दिए जाते हैं रेप के आरोपी

यूपी: महिलाआें सुरक्षा को लेकर रिपोर्ट ने यूपी में अपराध की भयावह तस्वीर पेश की है। यूपी पुलिस द्वारा जारी किए गए साल 2015 के आंकड़े भी हैरान करने वाले हैं। 2015 में राज्य में रेप की 3025 घटनाएं हुईं, जिसमें मेरठ रेेंज सबसे कुख्यात है।

वेस्ट यूपी में तो हालत ये है कि दुष्कर्म के कर्इ मामले पंचायत में ही निपटा दिए जाते हैं। इसमें भी आरोपियों को मात्र कुछ जूते मारने की सजा सुना दी जाती है आैर केस को खत्म कर दिया जाता है। एेसे कर्इ मामले सामने आ चुके हैं।

बिजनौर में सुनार्इ पांच जूते मारने की सजा पिछले माह अगस्त में एेसा ही मामला बिजनौर में देखने को मिला, जिसमें नाबालिग से रेप के मामले में पंचायत ने आरोपियों को पांच जूते मारने की सजा।बागपत में भी पंचायत इसी साल जनवरी में बागपत में एक पंचायत ने 15 साल की किशोरी के साथ गैंगरेप करने वाले तीन आरोपियों को गांववालों के सामने 5 जूते मारने की सजा दी और उन्हें छोड़ दिया। वारदात तब हुर्इ, जब किशोरी स्कूल जा रही थी। उसी वक्त आरोपियों ने उसका अपहरण कर उससे गैंगरेप किया था।

Tags:    
Share it
Top