Home > Archived > कानपुर रेल हादसा: 11 घंटे तक मौत से लड़ती रही यह छात्रा

कानपुर रेल हादसा: 11 घंटे तक मौत से लड़ती रही यह छात्रा

 Special Coverage News |  21 Nov 2016 10:01 AM GMT  |  कानपुर

कानपुर रेल हादसा: 11 घंटे तक मौत से लड़ती रही यह छात्रा

कानपुर: रविवार तड़के हुए भीषण रेल हादसे में 146 जिंदगियां खत्म हो गई, कितने लोग आज भी ट्रेन में फंसे हुए हैं, कितने लोग अपनों को ढूंढ रहे हैं और कितने ये भी नहीं जानते कि अब आगे वे क्या करेंगे। जिंदगी उन्हें कहां लेकर जाएगी। ट्रेन में सवार यात्रियों को ये अंजादा भी नहीं था कि एक रात, एक हादसा और सब कुछ बिखर जाएगा।

पटना मेडिकल कॉलेज की छात्रा कोमल सिंह ने 11 घंटे तक मौत से लड़ाई लड़ी। उसने खुद के जिंदा होने का सुबूत उन जवानों को लगातार दिया जो उसे बचाने में जुटे थे। बोगी के तीन कूपों को काटते हुए वे कोमल के पास गए और उसे निकाल लिया। कोमल इंदौर से पटना ही जा रही थी, वह बी थ्री में सबसे ऊपर वाली बर्थ पर लेटी थी। खास बात यह है कि कोमल को एक खरोंच तक नहीं आई थी। दो बजे उसने पानी पिया तो डॉक्टरों ने भी चैन की सांस ली मगर अगले ही पल उसकी मौत हो गई।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top