Home > आज गाय-भैंस तो कल मछली पर भी पाबंदी लगा देगी मोदी सरकार: CM विजयन

आज गाय-भैंस तो कल मछली पर भी पाबंदी लगा देगी मोदी सरकार: CM विजयन

Today Cows and buffaloes are ban tomorrow on fish

 Kamlesh Kapar |  2017-05-27 09:30:10.0  |  केरल

आज गाय-भैंस तो कल मछली पर भी पाबंदी लगा देगी मोदी सरकार: CM विजयन

केरल : देश में किसी भी पशु बाजार में कत्लखानों के लिए मवेशियों की खरीद या बिक्री पर रोक लगाने के फैसले के खिलाफ केरल सरकार PM मोदी को खत लिखने का फैसला किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक केरल के CM पिनाराई विजयन इस मसले पर PMO को खत लिख सकते हैं। विजयन का कहना है कि अगर आज मवेशियों को मारने पर पाबंदी लगा दी गई है, तो कल मछली खाने पर भी रोक लगा दी जाएगी।

मवेशियों और बूचड़खानों पर राज्य सरकार मौजूदा नियमों में खत का जवाब मिलने पर ही कोई बदलाव करेगी। केंद्र के नए नियम से गरीब, दलित और किसानों के रोजगार पर प्रभाव पड़ेगा। वहीं केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने केंद्र के इस फैसले को किसानों के हित में बताया है। मेनका ने कहा, सरकार ने पहले से ही मौजूदा कानून का समर्थन किया है।

पर्यारण मंत्रालय के नए नियमों के खिलाफ स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया, CPM यूथ विंग केरल के 200 स्थानों पर बीफ फेस्ट आयोजित करने जा रहा है। सरकार के इस फैसले का तमिलनाडु में भी विरोध हो रहा है। वीसीके पार्टी नेता ने सरकार को अल्पसंख्यकों के खिलाफ बताते हुए इस फैसले को आरएसएस का एजेंडा करार दिया है।

पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन का कहना हैं कि गाय, सांड़, भैंस, बैल, बछड़े, ऊंट जैसे जानवर इस कैटेगरी में आते हैं। हालांकि ये नियम बाजार के लिए हैं और मवेशियों की व्यक्तिगत तौर पर खरीद- बिक्री को इसमें स्पष्ट नहीं किया गया है। बूचड़खानों के लिए 50 से 60 फीसदी जानवर इन्हीं मवेशी बाजारों से आते हैं।

लिहाजा नोटिफिकेशन के बाद मीट के व्यापार पर इस असर पड़ेगा। इसके लिए खरीदने और बेचने वाले दोनों को एनिमल मार्केट कमिटी के मेंबर सेक्रेटरी को एक अंडरटेकिंग देना पड़ेगा। बिना राज्य मवेशी संरक्षण कानून की मंजूरी के खरीदार मवेशी को राज्य के बाहर भी नहीं बेच सकेगा।

Tags:    
Share it
Top