Home > कौशाम्बी में लगी आग, 11 घर जलकर हुए राख लाखों का नुकसान

कौशाम्बी में लगी आग, 11 घर जलकर हुए राख लाखों का नुकसान

 शिव कुमार मिश्र |  2017-03-27 14:21:25.0  |  New Delhi

कौशाम्बी में लगी आग, 11 घर जलकर हुए राख लाखों का नुकसान

कौशाम्बी: जिले की सैनी कोतवाली के नासिरपुर फरीदगंज में लगभग 2 बजे अचानक आग लग गयी. आग की लपटें इतनी ज्यादा थी की देखते ही देखते लगभग 11 व्यक्तियों के घर जल गए व् 3 बकरिया जल गई. आग की लपटों से लगभग 20 लाख रुपये का नुकसान हुआ है.


सैनी कोतवाली के नासिरपुर फरीदगंज में आज लगभग 2 बजे अचानक राजाराम पुत्र छेद्दू के घर में आग लग गयी. आग की लपटों ने अपने लपेटे में आसपास मौजूद 11 घरों को ले लिया. जिसमे लक्ष्मी कान्त पुत्र मंहगू लाल,महंगू लाल पुत्र मातादीन, अमृतलाल पुत्र राम मनोहर , बाबू लाल पुत्र राम मनोहर, सुदामा पुत्र राम किशोर, जगदेव पुत्र छेद्दू , धरमराज पुत्र नत्थू , श्यामबाबू पुत्र रघुनाथ , रामप्यारे पुत्र दिरपाल , उमेश पुत्र पंचम लाल के घर सहित सारा सामान जल कर खाक हो गया .


वही मंहगूलाल ने बताया की मेरी पुत्री रेनू की शादी आगामी 9 मई को तेंदुआ फतेहपुर निवासी रामचन्द्र के साथ होनी थी. जिसमे 20 हजार नकदी सहित दहेज में देने के लिए 2 बक्सा, अलमारी, सोफासेट, पलंग, जेवरात,व् गृहस्थी का सारा सामान लगभग 2 से 3 लाख रूपये का नुकसान हो गया. अमृतलाल की आग में 3 बकरी भी जल गयी.


वही राजाराम उर्फ़ बब्बू के घर में आग लगने से 20 हजार नकदी व् जेवरात सहित गैस सिलेंडर फट गया. इनका भी लगभग 2 लाख का सामान जलकर खाक हो गया तथा लक्ष्मीकांत की पत्नी सविता देवी ने बताया कि आज ही बैंक से 30 हजार रूपये की नकदी निकाल कर लायी थी जो आग में जल गया. इनका भी लगभग 2 लाख रुपये का नुकसान हुआ.


वही इस आग की विभीषिका में 80 वर्षीय महिला गोविंदी पत्नी जगरूप जल कर घायल हो गयी. इस आग से 11 घरों की गृहस्थी सहित लगभग 15 से 20 लाख रूपये का नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है. मौके पर पहुचे तहसीलदार सिराथू देवेंद्र प्रताप सिंह, नायब तहसीलदार पद्मेश श्रीवास्तव, इंस्पेक्टर सैनी राकेश कुमार चौरसिया व् उप निरीक्षक वीरेंद्र माली, नरेंद्र सिंह, मय फ़ोर्स के साथ ही राजस्व की पूरी टीम व् फायर बिग्रेड प्रभारी संजय कुमार तिवारी व् हमराही तथा एम्बुलेंस की टीम ने ग्रामीणों की मदद से आग को काबू में किया. आग से खाक हुयी गृहस्थी से 11 घरों के लोग बेघर हो गए.

नितिन अग्रहरी की रिपोर्ट

Share it
Top