Home > Archived > #कानपुर ट्रेन हादसा: रो पड़े सभी, जब 4 वर्षीय बेटा ने पूंछा मेरे पापा को क्यों जला रहे हो

#कानपुर ट्रेन हादसा: रो पड़े सभी, जब 4 वर्षीय बेटा ने पूंछा "मेरे पापा को क्यों जला रहे हो"

 Special Coverage News |  21 Nov 2016 1:25 PM GMT  |  New Delhi

#कानपुर ट्रेन हादसा: रो पड़े सभी, जब 4 वर्षीय बेटा ने पूंछा मेरे पापा को क्यों जला रहे हो

ललितपुर: पटना -इंदौर एक्सप्रेस में हादसे में मारे गए यूपी के ललितपुर जिले के आशीष शर्मा का सोमवार को अंतिम संस्‍कार किया गया. जब 4 साल के बेटे ने मुखाग्नि दी, इस दौरान बेटा बोला, "मेरे पापा को क्‍यों जला रहे हो".

मृतक की पत्‍नी के अनुसार

पत्नी ने रोते विलखते बताया मेरे पति पेपर देने लखनऊ गए थे. उनका रिजर्वेशन नहीं था, लेकिन टीसी से बात करके रिजर्वेशन बोगी में एक बर्थ मिल गई थी. ये सूचना रात करीब 12 बजे मिली जब उनसे फोन पर बात हुई थी, जिसमें उन्‍होंने ये बात कही थी.आखिर में उन्‍होंने कहा कि अब मैं सोने जा रहा हूं, इतनी बात कहकर फोन स्विच ऑफ कर लिया था.

आपको बता दें, मृतक का एक बेटा 4 साल का और बेटी 2 साल की है. पत्‍नी अपने पति का आज घर पर वापसी का इन्तजार कर रही थी. लेकिन पति जीवित नहीं मृत रूप में वापस आया.मृतक 36 वर्षीय आशीष शर्मा के बड़े भाई ने बताया कि आशीष पहले रिलायंस कंपनी में काम करता था, अब वर्तमान में मनरेगा कार्यक्रम में कार्यरत था. साथ ही कॉम्पटीशन एक्जाम की तैयारी भी कर रहा था.


आशीष घर से रविवार को एग्‍जाम देने लखनऊ जा रहा था. झांसी से इंदौर-पटना एक्सप्रेस ट्रेन में सवार हुआ था, लेकिन ट्रेन हादसे में उसकी मौत हो गई. कुछ महीने पहले ही पिता रामप्रसाद शर्मा का निधन हुआ था. परिवार पहले से ही सदमे में था, ऐसे में आशीष की मौत ने सभी को अंदर से तोड़ दिया है. हादसे के बाद आशीष के मौत की जानकारी मिल गई थी, लेकिन शव वापस घर पहुंचने तक हमने मां और उसकी पत्‍नी को इसकी जानकारी नहीं दी थी. शव पहुंचते ही पूरा परिवार चीत्कार करने लगा. कैसे बंधे धीर उस पत्नी को जिसे इंतजार था अपने पति का मासूमों को अपने पापा का.

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top