Home > Archived > पटना - इंदौर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरे, 63 की मौत, राहत और बचाव कार्य जारी

पटना - इंदौर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरे, 63 की मौत, राहत और बचाव कार्य जारी

 Special Coverage News |  20 Nov 2016 3:52 AM GMT  |  कानपुर

पटना - इंदौर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरे, 63 की मौत, राहत और बचाव कार्य जारी

कानपुर : इंदौर-पटना एक्सप्रेस ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। ट्रेन की 14 बोगी कानपुर के पास पुखरायां में पटरी से उतर गई। दुर्घटना सुबह 3.10 बजे पुखरायां और मलासा के बीच हुआ। ट्रेन का नंबर 19321 है। हादसे में अब तक 63 लोगों की मौत हो गई है। करीब 150 लोगों इस हादसे में घायल हुए हैं। यूपी एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) दलजीत सिंह चौधरी और आईजी कानपुर जकी अहमद ने इसकी पुष्टि की है। यह घटना कानपुर से से लगभग 100 किलोमीटर दूर पुखरायां के पास है।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस रेल हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। प्रभु ने ट्वीट कर कहा, 'दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना से निपटने के लिए सभी राहत कार्य शुरू कर दिए गए हैं। सभी मेडिकल और अन्य मदद पहुंचा दी गई हैं। जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। स्थिति पर करीबी नजर रखी जा रही है।'

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुख जताते हुए कहा कि पटना-इंदौर एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के कारण हुई मौतों पर वह अपने दर्द को शब्दों में बयां नहीं कर सकते। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा हालाज का जायजा लेने के लिए घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। रेलने बोर्ड के चेयरमैन और बोर्ड के सदस्यों को भी घटनास्थल का जायजा लेने के निर्देश दिए गए ट्रेन इंदौर से पटना जा रही थी। कई यात्री अब भी बोगियों में फंसे हुए हैं, जिन्हें सुरक्षित निकालने का काम तेजी से चल रहा है।

सुरेश प्रभु ने बताया कि हादसे में जान गंवाने वाले यात्रियों के परिजनों और घायलों को मुआवजा दिया जाएगा। इसके अलावा हादसे की वजह जानने के लिए भी जांच शुरू की जाएगी। प्रभु ने कहा कि हादसे के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पीड़ितों की मदद के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। राजनाथ सिंह भी सुरेश प्रभु के साथ लगातार संपर्क में हैं।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top