Top
Home > Archived > धिक्कार है ऐसे RBI गवर्नर और पीएम पर जिनके फैसले से गरीब सड़कों पर परेशान हैं - राजबब्बर

धिक्कार है ऐसे RBI गवर्नर और पीएम पर जिनके फैसले से गरीब सड़कों पर परेशान हैं - राजबब्बर

 Special Coverage News |  26 Nov 2016 2:37 AM GMT  |  New Delhi

धिक्कार है ऐसे RBI गवर्नर और पीएम पर जिनके फैसले से गरीब सड़कों पर परेशान हैं - राजबब्बर
x

कानपुर: केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा लिये गये तानाशाहीपूर्ण नोट बन्दी के निर्णय के खिलाफ यूपी कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजबब्बर, सांसद के नेतृत्व में रिजर्व बैंक आफ इण्डिया, कानपुर का घेराव किया गया। घेराव कार्यक्रम में प्रमुख रूप से यूपी कांग्रेस समन्वय समिति के चेयरमैन-सांसद प्रमोद तिवारी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजाराम पाल, आबिद सिद्दीकी सचिव कांग्रेस कमेटी, विधायक अजय कपूर, महामंत्री ओ पी श्रीवास्तव, नगर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री, कानपुर ग्रामीण के अध्यक्ष अभिजीत सिंह सांगा, कानपुर के मीडिया चेयरमैन शिरीश पाण्डेय सहित हजारों की संख्या में कांग्रेसजन शामिल रहे।


यह जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस के मीडिया इंचार्ज एवं पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर एवं प्रमोद तिवारी कानपुर पहुंचकर सीधे हैलट अस्पताल पहुंचे, जहां विगत दिनों हुई रेल दुर्घटना में घायलों का हालचाल लिया एवं घायलों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की। राजबब्बर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी हर संभव मदद करेगी।

इसके उपरान्त राजबब्बर ने तिलक हाल में हजारों की संख्या में मौजूद कांग्रेसजनों के साथ रिजर्व बैंक आफ इण्डिया ,माल रोड की ओर कूच किया एवं रिजर्व बैंक के सामने विशाल जनसभा को सम्बोधित किया। राजबब्बर ने सम्बोधित करते हुए कहा कि नोट बन्दी का निर्णय केन्द्र का तानाशाहीपूर्ण बिना सोचे समझे जल्दबाजी में लिया गया निर्णय है। मोदी को अब मोदी जी कहने में भी शर्म आती है, बिना पूरी तैयारी के नोट बन्दी से गरीब, किसान एवं आम जनता त्रस्त है। व्यापारी, मजदूर, छोटा कारोबारी परेशान है। कल संसद में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने कहा था कि दुनिया का कोई भी ऐसा देश नहीं है जहां जनता अपना पैसा बैंक से न निकाल सके किन्तु आज हिन्दुस्तान में आम जनता अपना पैसा नहीं निकाल सकती है। नोट बंदी के चलते लगभग सौ मौतें हो चुकी हैं। उन्होने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार पूरी तरह संवेदनहीन है।


समन्वय समिति के चेयरमैन एवं सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा कि देश की जनता अपने ही पैसे के लिए सड़कों पर लाइन लगाने के लिए मजबूर हो गयी है। समाज का हर वर्ग नोट बन्दी से परेशान है। केन्द्र की मोदी सरकार ने बिना तैयारी के जिस प्रकार नोटबंदी का निर्णय लिया है उससे पूरे देश के गरीब, किसान, छोटे व्यापारी सभी वर्ग परेशान हैं। उन्होने कहा कि जुमलों के आधार पर बनी हुई केन्द्र की मोदी सरकार को आने वाले दिनों में जनता माकूल जवाब देगी। इसके उपरान्त महामहिम राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से प्रेषित गया।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it