Top
Home > Archived > एसपी कासगंज ने जिले की पुलिस को किया हाईटेक, यूपी डायल 100 की सौगात मिली

एसपी कासगंज ने जिले की पुलिस को किया हाईटेक, "यूपी डायल 100" की सौगात मिली

 Special Coverage News |  11 Dec 2016 4:33 AM GMT  |  New Delhi

एसपी कासगंज ने जिले की पुलिस को किया हाईटेक, यूपी डायल 100 की सौगात मिली

कासगंज: पिछड़े जिले के कानून व्यवस्था को ठीक पटरी पर लाने वाले पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार ने जिले की पुलिस को हाईटेक कर दिया। एसपी सुनील कुमार ने जिले में यूपी डायल 100 के लिए जिले में पूरी तैयारी कर ली। जिले को अगले सप्ताह से इस सुविधा का लाभ मिलेगा।



एसपी सुनील कुमार ने बताया कि लखनऊ स्थित यूपी डायल 100 के अत्याधुनिक कण्ट्रोल रूम में जाकर मुझे वहां की मॉडर्न सुविधाओं को करीब से देखने का मौका मिला। ऐसा लग रहा था जैसे हम लोग किसी अमरीकी महानगर के पुलिस कंट्रोल रूम फैसिलिटीज को देख रहे हों ! कहीं कुछ भी वैसा न था जिसे हम सभी अधिकारी अब तक की नौकरी में देखते आये थे। सचमुच यूपी की वर्तमान सरकार ने यूपी की जनता को एक ऐतिहासिक तोहफा दिया है। एक ऐसा तोहफा जो हमेशा-हमेशा के लिए लोगों के मन में पुलिस की सुस्त कार्य-प्रणाली वाली इमेज बदल सकता है, बशर्ते कि पुलिस का एक-एक आदमी जनता की सेवा के प्रति सदभावना और उमंग से भरा हुआ हो और कोई कोताही न बरते। शर्त यह भी है कि पुलिस के जनपदीय अधिकारी इस योजना के प्रति समर्पित होकर अपने मातहत को एक अच्छा नेतृत्व प्रदान करें।



अगले एक सप्ताह के अंदर कासगंज जिले के लोगों को यूपी 100 सेवा का लाभ मिलने लगने की पूरी-पूरी संभावना है। इस मक़सद से 19 बोलेरो और 12 बाइक कासगंज पुलिस को मिल भी गए हैं और उनमें जरुरी उपकरण लगाने का काम भी लगभग पूरा हो चुका है। उन गाड़ियों में बैठ कर जनता की शिकायतों पर जल्दी से जल्दी कुछ मिनट में ही मौके पर पहुंचनेवाले पुलिसकर्मी आवश्यक ट्रेनिंग भी प्राप्त कर चुके हैं। बस इंतज़ार है तो इस सेवा के औपचारिक शुरुआत की जो प्राप्त सूचना के मुताबिक शायद 15 दिसम्बर को शुरू भी हो जायेगी।



मुझे ऐसा लग रहा है कि जिले के लगभग 16 लाख लोगों के लिए यह एक ऐतिहासिक दिन होगा। 100 नंबर डायल करते ही शिकायत करनेवाला व्यक्ति तुरंत लखनऊ में विश्व स्तर के कण्ट्रोल रूम से जुड़ जाएगा, उच्च ट्रेनिंग-प्राप्त लोग उन्हें सुनेंगे और नजदीक की Response Vehicle कुछ ही मिनट में उसके पास पहुँच जायेगी। उसकी शिकायत सुनी जायेगी और परेशानी दूर करने की पूरी कोशिश होगी। लोगों के मन में पुलिस की देरी से पहुँचने वाली यादें शायद अब धुंधली होकर मिट जायेंगीं और पुलिस-जनता के बीच दोस्ती और भरोसे का एक नया अध्याय शुरू हो जायेगा।



आज के दिन के अनुभव ने मुझे जन-सेवा के प्रति पुनः उत्साह से भर दिया है। अब मेरा प्रयास होगा कि मैं कासगंज में तैनात सभी पुलिसजन में वैसा ही उत्साह पैदा कर दूँ। मुझे मालूम है कि यक़ीनन यह एक बड़ी चुनौती है लेकिन उससे क्या, मुझे यह चुनौती स्वीकार है और हम जरूर क़ामयाब होंगे।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it