Home > Archived > दोनों में एक ही प्रकार के गुण, अवगुण और आदतें है तभी तो यह जोड़ी मिली है - PM मोदी

दोनों में एक ही प्रकार के गुण, अवगुण और आदतें है तभी तो यह जोड़ी मिली है - PM मोदी

 Special Coverage News |  13 Feb 2017 9:15 AM GMT  |  लखीमपुर खीरी

दोनों में एक ही प्रकार के गुण, अवगुण और आदतें है तभी तो यह जोड़ी मिली है - PM मोदी

लखीमपुर खीरी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी के लखीमपुर खीरी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे है। लखीमपुर रैली में जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बसपा ने प्रदेश का भला नहीं किया। यह चुनाव बहुत अहम और ऐतिहासिक है। बदलाव और विकास का समय हमारे सामने हैं। यूपी में कई बार एसपी-बीएसपी-कांग्रेस की सरकार रही। अब ऐसे लोगों को मौका नहीं देना चाहिए।

पीएम मोदी ने सपा-कांग्रेस गठबंधन पर जमकर निशाना साधा, कहा सपा ने कांग्रेस से गठबंधन करके लोहिया को अपमानित किया है। सपा ने लोहिया, जय प्रकाश नारायण को अपमानित किया। पहले चरण में सपा, कांग्रेस, बीएसपी को जवाब देने के लिए मतदान हुआ। पहले चरण का रुख साफ़ बता गया, कितने भी गठबंधन कर लो, आपके पाप धुलने वाले नहीं है। चुनाव के दौरान सपा ने तीसरा घोषणापत्र निकाला, जब पराजय दिखी तो दोनों मीडिया के सामने गिड़गिड़ाने लगे।

पीएम मोदी ने अखिलेश सरकार पर जमकर निशाना साधा, कहा 2014 के बाद से सपा जोड़-तोड़ की राजनीति में जुट गई है। खाली फीता काटने से काम नहीं बोलता है। अखिलेश ने उद्धघाटन किया, न स्टेशन बने, न मेट्रो चली। अखिलेश ने हड़बड़ी में मेदांता अस्पताल का भी उद्धघाटन किया। अस्पताल में न डॉक्टर है, न मरीज़, सिर्फ फीता काट दिया। मेट्रो के लिए भारत सरकार ने पैसे दिए। लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन में शहर के सांसद का अपमान हुआ।

पीएम मोदी ने कहा अखिलेश सरकार में जेलों से गैंग चलती हैं। यह अखिलेश का काम है या कारनामा। गुंदागर्दी के संरक्षण की बजह से बर्बाद हो रहा है उत्तर प्रदेश। कृष्ण और राम की धरती को क्या बना कर रख दिया आपने। उन्होंने कहा तीन घोषणापत्र निकालने वाले क्या विकास करेंगे। माताओं-बहनों से कहना चाहता हूं कि दिल्ली में आपका भाई बैठा है, उसे यूपी में सेवा का मौका दें। 30 साल बाद यूपी के लोगों ने देश को स्थिर सरकार दी। मुझे सांसद भी आप लोगों ने ही बनाया। 6 महीने के अंदर अपराधियों को सलाखों के पीछे डाल देंगे। यूपी में अगर सरकार बनी तो पहली ही बैठक में किसानों की कर्जमाफी का काम किया जाएगा।

मायावती के कार्यकाल में हुए घोटालों की जांच का आपने वादा किया था। क्या सीएम बताएंगे अभी तक जांच क्यों नहीं हुई। यूपी में सिर्फ 14 फीसदी किसानों का ही फसल बीमा क्यों हुआ। यूरिया को लेकर हर सीएम की चिट्ठी आई, दो साल हो गए अखिलेश की आज तक नहीं आई। अखिलेश जी को हमारे काम नहीं दिखेंगे। क्योंकि उन्हें काम नहीं कारनामों की आदत है। सरकार विकास के लिए होती है। भाई-भतीजावाद, जात-पात के लिए नहीं। दोनों (राहुल-अखिलेश) में एक ही प्रकार के गुण, अवगुण हैं तभी तो यह जोड़ी मिली है।

उन्होंने कहा अखिलेश सरकार में डीएम बनने के लिए अधिकारियों को 70 लाख रुपये जमा करने पड़ते हैं। क्या है ये? यूपी में हर थाने को सपा का कार्यालय बना दिया गया है। उसके नेताओं के फोन के बिना काम नहीं होता। मायावती की सरकार में 2010-12 के बीच में यूपी के 23 गांवों में बिजली का काम हुआ। अखिलेश ने दो साल में केवल तीन गांवों में बिजली पहुंचाई। हमारी सरकार केंद्र में बनी तो हमने यूपी के 1364 गांवों में बिजली पहुंचाई। नौजवानों को उनके ही जनपद में काम मिले, ऐसे विकास के मॉडल पर मुझे काम करना है। मैं गरीबी में पैदा हुआ हूं, गरीबी को जिया है। इसीलिए मैं गरीबों के लिए जीना चाहता हूं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top