Home > Archived > मुसलमान ना ही थाली का बैगंन है ना ही है पानी का बुलबुला

मुसलमान ना ही थाली का बैगंन है ना ही है पानी का बुलबुला

 Special Coverage News |  26 Oct 2016 11:24 AM GMT  |  New Delhi

मुसलमान ना ही थाली का बैगंन है ना ही है पानी का बुलबुला

लखनऊ: सूबे के वरिष्ठ काबिना मंत्री आज़म खां ने कहा है कि सूबे का मुसलमान पानी का बुलबुला नहीं है और ना ही थाली का बैगंन है जो जब मन चाहे तब लुड़का दो या फोड़ दो. देश में इस समय सबसे जयादा परेशान है,


आज़म ने कहा कि देश में इस समय सबसे बुरे दौर से मुसलमान गुजर रहा है. उनको अपना भविष्य अंधकारमय दिखाई दे रहा है. उनका टूटता विखरता सपना सबके सामने है. ताजुब्ब तो इस बात से होता है कि जिहोने आज तक मुस्लिमों के लिए कुछ नहीं किया वो मुसलमान वोट को अपनी जागीर मानते है. मुसलमान कोई पानी का बुलबुला या थाली का बैगंन नहीं नहीं है जो जब चाहे लुढका दो. मुसलमान अपनी पैनी नजर रखता है. फैसला लेने में पूरी तरह सक्षम है. मुसलमान यह सुनिश्चित जरुर करेगा की यूपी में बीजेपी को सरकार बनाने से कैसे रोका जा सके.


आजम ने कहा कि मुस्लिम नेता और मुसलमान सेकुलर हिन्दुओं के साथ ही चलना चाहते है. लेकिन ना ही हारी हुई लड़ाई लड़ना चाहते है और नाही वेभारोसा राजनैतिक ताकतों के साथ जाना चाहते है. यूपी में मस्लिम अपना निर्णय लेने में पूरी तरह सक्षम है.

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top