Breaking News
Home > Archived > चाचा को भतीजे का फिर मास्टर स्ट्रोक, चाचा को फिर किया चित!

चाचा को भतीजे का फिर मास्टर स्ट्रोक, चाचा को फिर किया चित!

 Special Coverage News |  1 Nov 2016 11:01 AM GMT  |  New Delhi

चाचा को भतीजे का फिर मास्टर स्ट्रोक, चाचा को फिर किया चित!

लखनऊ

देखने पर भले ही समाजवादी पार्टी के आपसी झगड़े पर विराम लग गया हो, लेकिन हकीकत ये है कि अन्दर ही अन्दर ये आग अभी भी दिलों में बुरी तरह से सुलग रही है. इस आपसी खींचतान के बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 3 नवंबर से समाजवादी विकास रथ यात्रा लेकर निकलेंगे.


यात्रा से पहले मंगलवार को अखिलेश के विशेष रथ को मुख्यमंत्री आवास पर देखने को मिला. अखिलेश के रथ का निर्माण 'मर्सडीज़ बेंज' ने किया है. इस रथ की सबसे बड़ी खासियत यह है कि पूरे रथ में कहीं भी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव की कोई भी तस्तवीर नहीं है.


अखिलेश का यह हाईटेक रथ पूरी तरह समाजवादी रंग में रंगा हुआ है.समाजवादी विकास रथ के बीचोबीच अखिलेश साइकिल चला रहे हैं तो पीछे मुलायम सिंह यादव खड़े नजर आ रहे हैं. रथ में अखिलेश सरकार की बड़ी योजनाओं मेट्रो, लैपटॉप, एक्सप्रेस वे को भी जगह मिली है. विकास रथ की बाईं ओर लोहिया, जनेश्वर मिश्र और जेपी जैसे समाजवादी विचारकों की तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है. लेकिन रथ से सपा के प्रदेश अध्यक्ष और समाजवादी पार्टी के 'विकास पुरुष' शिवपाल यादव गायब नजर आ रहे हैं. इसके बाद एक बार फिर से अटकलों का दौर शुरू हो गया है कि अखिलेश और शिवपाल के बीच सबकुछ ठीक नहीं है. चाचा भतीजे के बीच दूरियां जग जाहिर हो चुकी है. लेकिन विकास रथ से चाचा की तस्वीर को गायब करना एक सोचने बाली बात है.


आपको बता दें कि सीएम ने दीपावली भी अपने चाचा रामगोपाल यादव के साथ जाकर मनाई. जबकि रामगोपाल को पार्टी से छह साल के लिए निष्काषित कर दिया गया है. प्रो रामगोपाल यादव और अखिलेश दोनों की इस झगड़े में एक दुसरे का वचाव करते नजर आये.

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top