Home > Archived > बसपा की ओर बढ़ रहा है यूपी की जनता का झुकाव

बसपा की ओर बढ़ रहा है यूपी की जनता का झुकाव

 Special Coverage News |  7 Nov 2016 11:20 AM GMT  |  New Delhi

बसपा की ओर बढ़ रहा है यूपी की जनता का झुकाव

प्रो. (डॉ.) योगेन्द्र यादव
इस समय मैं बुंदेलखंड की यात्रा पर निकला हूँ. इस यात्रा के दौरान आने वाले विधान सभा के सम्बन्ध में भी मेरी लोगों से बातचीत हो रही है. आज की बातचीत से जो निष्कर्ष निकला है, उसके अनुसार एक बार फिर और लोग बसपा को वोट देने का मन ना रहे हैं. समाजवादी पार्टी में हो रही अखिलेश – शिवपाल के बीच की उठापटक के कारण निराश है. धीरे-धीरे लोगों को विश्वास होता जा रहा है कि समाजवादी पार्टी का यह पारिवारिक झगड़ा पुन: सत्ता में आने के बाद और बढ़ेगा. खत्म नही होने वाला है. पिछले ढाई वर्षों में मोदी सरकार लोकसभा चुनाव के दौरान किये गये वायदे पूरा नही कर पायी, जिसके कारण जनता का झुकाव उसकी तरफ भी नही हो पा रहा है. रैलियों के माध्यम से जो भीड़ दिख रही है, वह वोट में परिवर्तित होगी, इसमें संदेह है. यदि कांग्रेस की बात करें, तो उसके प्रति जनता में कुछ प्रतिशत विश्वास जरूर बढ़ा है. लेकिन जनता यह अच्छी तरह जानती है कि वह सरकार बनाने की स्थिति में नही है.

यह तो सभी जानते हैं कि यहाँ की क्षेत्रीय पार्टियों के अपने पुख्ता वोट बैंक हैं. उसमें बसपा का वोट बैंक सबसे कम इधर-उधर खिसकता है. जबकि देखने में यह आ रहा है कि सपा, भाजपा एवं कांग्रेस का मतदाता अपनी आस्था का अल्टरनेट भी ढूढने में लगा है. इसमें इस प्रदेश का मुसलमान के सामने यदि सपा नही, तो बसपा एक क्लीयर कट अल्टरनेट है. इस प्रदेश का यादव मतदाता बसपा के बजाय भाजपा की अधिक बात कर रहा है. लेकिन वह बसपा की और नही जायेगा, इसकी गारंटी नही है. बस वह बसपा प्रमुख मायावती से एक ही एश्योरेंस चाहता है कि वे इस बात का आश्वासन दे दें कि उनके खिलाफ बदले की भावना से दलित एक्ट नही लगाया जायेगा.

लेकिन इस प्रदेश में 2017 में होने वाले चुनाव की तस्वीर तब तक साफ नही हो सकती है, जब तक सभी पार्टियाँ अपने-अपने उम्मीदवार नही घोषित कर देती हैं. क्योंकि प्रदेश की जनता पार्टियों द्वारा घोषित प्रत्याशियों के उम्मीदवार को देख कर भी निर्णय लेती है. इसलिए अभी जो कुछ राजनीति में दिख रहा है, वह बदल सकता है.

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top