Top
Home > Archived > धर्मनिरपेक्ष स्वरूप समाप्त करने में जुटी बीजेपी, अम्बेडकर की वजह से बचे हैं मुस्लिम: मायावती

धर्मनिरपेक्ष स्वरूप समाप्त करने में जुटी बीजेपी, अम्बेडकर की वजह से बचे हैं मुस्लिम: मायावती

 Special Coverage News |  6 Dec 2016 10:07 AM GMT  |  New Delhi

धर्मनिरपेक्ष स्वरूप समाप्त करने में जुटी बीजेपी, अम्बेडकर की वजह से बचे हैं मुस्लिम: मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के 61वें परिनिर्वाण दिवस पर यहां आयोजित कार्यक्रम में कहा की भाजपा और संघ संविधान का धर्मनिरपेक्ष स्वरूप समाप्त करने की कोशिश की, आरोप लगाते हुए कहा कि ये शक्तियां संविधान को बदलकर हिन्दुत्व आधारित जातिवादी वर्ण व्यवस्था स्थापित करने में जुटी हैं।

आज मुस्लिम और अन्य धार्मिक अल्पसंख्यक अगर थोड़े बहुत सुरक्षित हैं तो यह अम्बेडकर की ही वजह से है। उन्होंने कहा कि अम्बेडकर द्वारा संविधान में दिये गये अधिकारों की रक्षा और अपनी सामाजिक तथा आर्थिक स्थिति में सुधार के लिये दलितों, पिछड़ों और धार्मिक अल्पसंख्यकों को 'सत्ता की मास्टर चाबी' अपने हाथ में लेनी होगी।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it