Home > Archived > लोहिया के बाद रवि राय ने समाजवाद को आगे बढ़ाया -दीपक मिश्र

लोहिया के बाद रवि राय ने समाजवाद को आगे बढ़ाया -दीपक मिश्र

 शिव कुमार मिश्र |  2017-03-07T08:22:33+05:30  |  लखनऊ

लोहिया के बाद रवि राय ने समाजवाद को आगे बढ़ाया -दीपक मिश्र

लखनऊ: समाजवादी चिंतक एवं चिंतन सभा के अध्यक्ष दीपक मिश्र ने रवि राय को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि लोहिया के बाद समाजवादी आन्दोलन एवं वैचारिकी को राष्ट्रीय स्तर पर आगे बढ़ाने वालों में रवि राय जी का नाम प्रमुख है। रवि राय जी समाजवादी चिंतन की जीवंत प्रतिमा थे।


उन्होंने हमेशा समाजवादियों को रचनात्मक कामों से जुड़ने एवं ईमानदारी पूर्वक जनसेवा करने की प्रेरणा दी। लोहिया के महाप्रयाण के बाद रवि राय जी ने समाजवादी आन्दोलन की अगुआई की। जब मैंने उन्हें समाजवाद पर लिखी अपनी पुस्तकें भेंट की तो वे काफी प्रसन्न हुए और जितने दिन मैं कटक-प्रवास पर रहा वे रोज बुलाकर समाजवादी विचारधारा की विविध अवधारणाओं की जानकारी देते रहे।


उनसे संवाद के दौरान कभी भी यह एहसास नहीं हुआ कि मैं इतने बड़े राजनेता के साथ बातचीत कर रहा हूँ। उनकी सादगी और ईमानदारी अनिर्वचनीय थी, वे नई पीढ़ी के समाजवादियों में पठन पाठन में घटती अभिरुचि से काफी चिंतित रहते थे। वे सही मायने में सच्चे समाजवादी थे। वे भारत में समाजवादी व्यवस्था के खुले पैरोकार थे।


जब हम समाजवादियों ने हिन्दी संयुक्त राष्ट्र संघ की आधिकारिक भाषा का दर्जा दिलाने का अभियान छेड़ा तो उड़िया भाषी होने के बावजूद रवि राय साहब हमारे पक्ष में खुलकर आए। वे उत्तर और दक्षिण भारत के सेतु थे। सुभाष चन्द्र बोस और डा० लोहिया के अनुयायी रवि राय भले ही सशरीर हमारे बीच में न हों लेकिन उनके विचार एवं उनकी रचनाएं हमारा मार्गदर्शन करने के लिए सदैव उपलब्ध रहेंगे।

Tags:    
Share it
Top