Home > Archived > दलित ने नहीं दिया बीजेपी को वोट तो कर दी गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में तनाव पुलिस मौके पर

दलित ने नहीं दिया बीजेपी को वोट तो कर दी गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में तनाव पुलिस मौके पर

 Special Coverage News |  20 Feb 2017 3:57 AM GMT  |  New Delhi

दलित ने नहीं दिया बीजेपी को वोट तो कर दी गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में तनाव पुलिस मौके पर

मैनपुरी: मतदान करके वापस लौटते 26 वर्षीय युवक की गोली मार कर गांव में ही हत्या कर दी गई। दलित युवक की हत्या से गांव में तनाव फैल गया। हत्या के बाद मौके पर एसओ के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। मृतक के भाई ने गांव के ही एक व्यक्ति पर हत्या करने का आरोप लगाया है।


मैनपुरी के बेवर के नगला ताल गांव का दलित युवक आलोक पुत्र रामप्रकाश दिल्ली में रह कर प्राइवेट नौकरी करता था। वह गांव में मतदान करने के लिए रविवार को आया था। शाम चार बजे आलोक मतदान करके अपने घर वापस लौट रहा था।इसी दौरान उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक के भाई योगेंद्र ने गांव के ही विक्रम सिंह पुत्र राजवीर पर आलोक की हत्या करने का आरोप लगाया है। उसका कहना है कि आलोक के वापस लौटने के दौरान रास्ते में ही विक्रम ने उसे रोक लिया। विक्रम ने उससे पूछा कि किसे वोट डाल कर आ रहे हो।



इस पर आलोक ने बताया कि वह बसपा को वोट डाल कर लौट रहा है। योगेंद्र का कहना है कि यह विक्रम सिंह ने यह सुन कर भाजपा को क्यों नहीं वोट डाला बोल कर आलोक को गोली मार दी। गोली आलोक की गर्दन में लगी।इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इधर घटना की सूचना पर बेवर थाने की पुलिस के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस गांव में तैनात कर दी गई। गांव में शाम तक तनावपूर्ण माहौल था। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। इधर दलित को गोली मारने की सूचना पर मौके पर बसपा कॉर्डिनेटर दीपक पेंटर पहुंच गए।

Share it
Top