Home > Archived > मेनका गाँधी के जिले में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान पर सामने आया बड़ा फर्जीवाड़ा!

मेनका गाँधी के जिले में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान पर सामने आया बड़ा फर्जीवाड़ा!

 शिव कुमार मिश्र |  20 Feb 2017 8:09 AM GMT  |  पीलीभीत

मेनका गाँधी के जिले में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान पर सामने आया बड़ा फर्जीवाड़ा!

पीलीभीत: प्रधानमंत्री के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के नाम पर बड़ा खेल सामने आया है। धंधेबाजों ने इस अभियान को योजना बताकर इसे कमाई का जरिया बना लिया है। इस योजना के फार्म बाजार में धड़ल्ले से बिक रहे हैं और हर रोज हजारों लोग फार्म खरीदकर इसके लिए आवेदन कर रहे हैं। यह फार्म बाल विकास एवं महिला कल्याण मंत्रालय के नाम भेजे जा रहे हैं, जबकि यह मंत्रालय संभाल रही मेनका संजय गांधी ने ऐसी कोई भी योजना से ही इंकार किया है।


उन्होंने इस योजना के नाम पर लोगों के साथ विश्वासघात करने वालों के खिलाफ एफआईआर कराने की बात कही है। देश में बेटियों को बचाने और उनको पढ़ाने का प्रधानमंत्री ने सपना देखा है। वह इसके लिए अभियान चलाकर देशवासियों को जागरूक भी कर रहे हैं। बेटियों का भविष्य संवारने के लिए उनकी इस पहल को लोग हाथोंहाथ भी ले रहे हैं। इस अभियान के प्रति लोगों की बढ़ रही उत्सुकता को अब धंधेबाज कैश कराने में जुट गए हैं। इसके लिए धंधेबाज भोले-भाले लोगों की आंखों में धूल झौंकर बड़े फर्जीवाड़े को अंजाम दे रहे हैं।


मेनका संजय गांधी, केन्द्रीय महिला एंव बाल विकास मंत्री

फर्जीवाड़ा करने वालों के खिलाफ होगी एफआईआरबेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एक अभियान है। यह योजना नहीं है। इस योजना बता कर कोई फर्जीवाड़ा कर रहा है, यह गंभीर अपराध है। फर्जीवाड़ा रोकने को इस अभियान के वेबसाइट पर भी इसको लेकर चेतावनी दी गई है। अगर इस योजना में दो लाख रुपए मिलने का लालच देकर आवेदन कराए जा रहे हैं तो यह लोगों के साथ बड़ा धोखा है। इस मामले की जांच कराई जाएगी। जो भी इसमें लिप्त पाया जाएगा उसके खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी।

रिपोर्ट -फैसल मलिक

Tags:    
Share it
Top