Home > Archived > पीलीभीत में डेंगू का डर दिखाकर लूट रहे है मरीजों को अस्पताल वाले

पीलीभीत में डेंगू का डर दिखाकर लूट रहे है मरीजों को अस्पताल वाले

 Special Coverage News |  11 Nov 2016 11:38 AM GMT  |  New Delhi

पीलीभीत में डेंगू का डर दिखाकर लूट रहे है मरीजों को अस्पताल वाले

पीलीभीत फैसल मलिक: डेंगू का खौफ ही काफी है और जब यह खौफ मरीज के परिजनों को दिखाया जाता है, तो वे तड़प उठते हैं,फिर परिजन यहां पैसा नहीं देखते, बल्कि मरीज की जान बचाने के लिए पानी की तरह पैसा बहाते हैं, इसी का फायदा उठाया जा रहा था डॉक्टर और पेथालॉजी संचालकों द्वारा। इसका खुलासा हुआ, तो स्वास्थ विभाग अधिकारियों के होश उड़ गए। सीएमओ ने इस मामले में जांच कमेटी गठित की है। सामान्य बुखार को बना दिया डेंगू पीलीभीत में डाक्टर व पेथालॉजी लैबों का गठजोड सामने आया है।


यहां डेंगू का खौफ दिखाकर सामान्य बुखार के मरीजो को लूटा जा रहा था। शहर के व्यापारी विनय सक्सेना के पुत्र उदय देहरादून से बीटैक कर रहा है। हाल ही में जब वह घर पर आया तो उदय को बुखार आ गया, जिसके बाद डॉ आदित्य पाण्डे को दिखाया गया। डॉ आदित्य ने डेंगू व प्लेटलेटस की जांच के लिए विनय सक्सेना को जीवनरेखा पेथालॉजी पर भेजा। उदय की रिपोर्ट में प्लेटलेटस 70 हजार व डेंगू दर्शाया गया। उदय को अपना स्वास्थ कुछ ठीक लग रहा था, जिसके बाद शक के आधार पर विनय अपने पुत्र को ओजस्वी पेथालॉजी लेब पर ले गए और उसी दिन दूबारा जांच कराई। ओजस्वी लैब की रिर्पोट में प्लेटलेटस 2 लाख 48 हजार व डेंगू निगेटिव आया। बेटे की दो रिपोर्ट देखकर विनय परेशान हो गए। विनय अपने पुत्र को दोबारा दोबारा जीवनरेखा लैब ले गए और ओजस्वी लैब की रिपोर्ट दिखाई। पहले तो जीवनरेखा लैब की डॉ. नीलम ने ओजस्वी लैब की रिपोर्ट को गलत ठहराया, लेकिन बाद में जब विनय ने सीएमओ से शिकायत करने की धमकी दी, तो डॉ. नीलम ने दोबारा जांच कराई। इस जांच में सच्चाई का खुलासा हो गया।


इस बार जांच रिपोर्ट बिलकुल सही आई। विनय के पुत्र के प्लेटलेट्स भी ठीक थे, उसे डेंगू भी नहीं था। इसके बाद विनय सक्सेना ने मामले की शिकायत सीएमओ, जिलाधिकारी से की। शिकायत के बाद सीएमओ ने दो डॉक्टर व पेथालॉजिस्ट की टीम बनाकर जांच की बात कही है। इस मामले में जब डॉ. आदित्य से बात की गई, तो उन्होंने खुद पर लगाए गए आरोपों से पलड़ा झाड़ते हुए कहा कि इस प्रकार की रिपोर्ट मरीजों के लिए बेहद खतरनाक हैं।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top