Home > तारिक फतेह पर दर्ज हुआ दंगा भड़काने का मुकदमा

तारिक फतेह पर दर्ज हुआ दंगा भड़काने का मुकदमा

 शिव कुमार मिश्र |  2017-03-01 04:04:34.0  |  सहारनपुर

तारिक फतेह पर दर्ज हुआ दंगा भड़काने का मुकदमा

बेताब अहमद की रिपोर्ट

देवबंद शहर के ज्ञान और इल्म की इस बस्ती में सैकड़ों महिलाएं नामूस ए रसूल के बचाव में सड़कों पर निकल आयीं, इस्लामी शिष्टाचार और सभ्यता कीचड़ उछालने के विरोध में प्रदर्शन करते हुए हाथों में विरोध के नारे वाले तख्तियां लिए औरतों ने साईलेंट प्रोटेस्ट किया। जुलूस की शकल में देवबंद की ख्वातीन महद ए आयशा सिद्दीक़ा कासिमुल ऊलूम लिलबनात मुहल्ला अबुल बरकात,से ख़ानक़ाह पुलिस चौकी तक गईं । जहां उन्होंने एस.डी.एम द्वारा राष्ट्रपति और प्रधानमंत

्री के नाम एक चार सूत्री ज्ञापन में तारिक फतेह पर दर्ज हुआ दंगा भड़काने का मुकदमा.


जिनमें से कुछ पर लिखा हुआ था, " तारिक फतेह पाकिस्तानी एजेंट है ", " तारिक फतेह मुर्दाबाद ", " तारिक फतेह वापस जाओ " ; " तारिक फतेह मलऊन है ", " तारिक फतेह को गिरफ्तार करो ", " जी न्यूज चैनल का बहिष्कार करना चाहिए ", " सांप्रदायिकता बंद करो " और " गंगा-जमुनी तहज़ीब जिंदाबाद " जैसे नारे थे। ज्ञापन में कहा गया है, " भारत एक लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष देश है, इस देश की स्वतंत्रता, निर्माण और विकास में हर भारतीय चाहे किसी भी धर्म को मानने वाला हो, सभी ने हर तरह की कुर्बानियां दी हैं।


आज इस देश में अक्सर लोग प्यार के साथ रहते हैं। एक दूसरे के दुख दर्द और खुशी में और गम में शरीक रहते हैं। यही हमारे देश की पहचान है। हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान को भारत के लोगों का प्यार और प्यार से रहना और हमारे देश का विकास और समृद्धि पसंद नहीं आती। इसलिए वह भारत की शांति को दंगों में बदलने का, भारतियों में नफरत पैदा करने का कोई मौका गंवाना नहीं चाहता। दुर्भाग्य से हमारे देश के कुछ लोग इस साजिश के जाल में फंस जाते हैं। " ज्ञापन में कहा गया है, " हम सभी मुसलमानों को अपने भारतीय होने पर गर्व है।



पिछले कुछ महीनों से देश के टीवी चैनल जी न्यूज पर एक पाकिस्तानी व्यक्ति तारिक फतेह 'फतेह का फतवा' नामक शो चल रहा है जिसमें मुसलमानों को चोट पहुंचाने के लिए तारिक फतेह इस्लाम और मुसलमानों के बारे में गलत बयानी करता है, इस्लाम की गलत तस्वीर पेश करता है, यूट्यूब पर उसकी बहुत सी क्लिप्स हैं जिनमें वो अल्लाह के बारे में पैगंबर मोहम्मद स. के बारे में और कुरान के बारे में गलत विचार व्यक्त करता है जो किसी भी मुसलमान के लिए असहनीय है, तारिक फतेह एक पाकिस्तानी है और हो सकता है वह आईएसआई का एजेंट हो और भारत में दंगे भड़काने लिए भेजा गया.


ज्ञापन की मांगें –
1.तारिक फतेह का वीजा निरस्त करके उसे तुरंत देश बद्र किया जाए.

2.आगे से इसके भारत आने पर पाबंदी लगाई जाए।

3.जी न्यूज चैनल के ज़िम्मेदारों पर देश में नफ़रत फैलाने वाले कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग करने और टीवी चैनल पर दिखाने की वजह से मुकदमा कायम किया जाए.

4.तुरंत इस कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगा कर उसके पूरे कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग को जब्त कर बर्बाद किया जाए ताकि तारिक फतेह जैसे पाकिस्तानी को और किसी भी चैनल को भारत में नफरत फैलाने की हिम्मत न हो.

"ये प्रदर्शन महद ए आयशा सिद्दीक़ा कासिम उलूम लिलबनात देवबंद की ओर से आयोजित किया गया था। जिस में शहर की सैकड़ों महिलाओं ने भाग लिया जिसका नेतृत्व महद आयशा सिद्दीक़ा कासिमुल ऊलूम लिलबनात की प्रिंसिपल श्रीमती इफ़्फत नदीम साहिबा ने की।

Tags:    
Share it
Top