Home > Archived > अपेक्स हॉस्पिटल डी एल डब्लू , वाराणसी की अमानवीय लूट ,धोखाधड़ी की शिकायत

अपेक्स हॉस्पिटल डी एल डब्लू , वाराणसी की अमानवीय लूट ,धोखाधड़ी की शिकायत

 Special Coverage News |  15 Nov 2016 3:31 AM GMT  |  New Delhi

अपेक्स हॉस्पिटल डी एल डब्लू , वाराणसी की अमानवीय लूट ,धोखाधड़ी की शिकायत

वाराणसी: उपभोक्तावाद के दुष्प्रभाव से अब चिकित्सा संस्थान भी अछूते नहीं रहे। आज के समय में स्वास्थ्य क्षेत्र को सबसे मुनाफे वाले व्यापार के तौर पर देखा जाता है लेकिन अब यही 'मुनाफा क्षेत्र' लूट और शोषण का क्षेत्र बनने की ओर है। स्वास्थ्य मानवीय जीवन का सबसे आवश्यक अंग है जिसे कोई नहीं खोना चाहता और कितने भी पैसे खर्च हों हर मनुष्य निरोगी रहना चाहता है। इसी का फायदा कुछ शैतान खोपड़ियों ने उठाया जिन्होंने मानवीय सेवा के क्षेत्र को भी व्यापार की श्रेणी में ला दिया।


यही नहीं बल्कि अपनी लूट चलाने के लिए इन संस्थानों ने इतने बहाने और तथाकथित सुविधाएं खोज निकाले हैं जिससे पार पाना किसी सामान्य मनुष्य के बस की बात नहीं हैं। जीते जी इलाज पर खर्च मरने के बाद भी वसूली कुछ प्राइवेट अस्पतालों के लूट का आलम यह है कि वह मरीजों को भर्ती करने के बाद इलाज के दौरान जमकर पैसे तो ऐंठते ही हैं लेकिन किसी मरीज के मरने पर भी बिना तगड़ी वसूली किये उनकी लाश देने को तैयार नहीं होते।




ताज़ा मामला प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी से जुड़ा है ।वाराणसी निवासी प्रशांत चतुर्वेदी को गंभीर सांस संबंधी बीमारी की वजह से बी एच यू के आई सी यू में भर्ती कराने की सलाह डॉ ने दी किन्तु बेड की अनुपलब्धता और रोगी की गंभीर अवस्था ने परिजनों को प्राइवेट हॉस्पिटल अपैक्स में मरीज को भर्ती करवाने को विवश किया और यही से शुरू हुआ इमोशनल ब्लैकमेलिंग के जरिये मोटी रकम लूट का दौर । मोटा पैसा भर्ती कराने के समय जमा करवाये उसके बाद वेंटीलेटर पर रखने और न जाने किन किन बहानो से वसूली करते रहे ।किसी डॉ से परिजनों को मिलने नही दिया गया जब 13 nov को हालात बिगड़ने लगे मरीज के तो भी परिजनों के बार बार कहने के बाद भी डिस्चार्ज नही किया ।पुलिस के हस्तक्षेप से मरीज को अस्पताल से मुक्त करवाया गया ।एम्बुलेंस के नाम पर वाराणसी से लखनऊ के 30 हजार वसूले । बिना रसीद ,कोई मेडिकल पेपर तक नही दिए परिजनों को ।हॉस्पिटल स्टाफ मारपीट पर उतारू हो गया। इस आशय की शिकायत पीड़ित परिजनों ने प्रधानमंत्री मोदी सहित शासन के वरिष्ठ अधिकारियों से की है और जनता से अपील की है कि ऐसे संस्थानों के प्रति मुहीम छेड़े ताकि कोई और प्रशांत अपैक्स हॉस्पिटल द्वारा लूटा न जा सके .

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top