Top
Home > Archived > चिट्ठी में मनोहर पर्रिकर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा से खुश नहीं हूं- ममता बनर्जी

चिट्ठी में मनोहर पर्रिकर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा से खुश नहीं हूं- ममता बनर्जी

 Special Coverage News |  9 Dec 2016 11:29 AM GMT  |  New Delhi

चिट्ठी में मनोहर पर्रिकर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा से खुश नहीं हूं- ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल: रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर के भेजे हुए चिट्ठी पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि मैं चिट्ठी में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा से खुश नहीं हूं। उन्होंने कहा मैंने सरकार की नीतियों की बात की थी, न कि सेना की।

दरअशल रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर ने ममता बनर्जी को चिट्ठी लिखी। पर्रिकर ने चिट्ठी में लिखा- मुझे इस बात का दुख है कि आर्मी को राजनीति में जिस तरह से खींचा गया है ममता बनर्जी के द्वारा वह ठीक नहीं था। सेना के नाम विवाद में आने पर दुख पहुंचा है। सेना को बेवजह विवादों में घसीटा गया और इससे उन्‍हें दुख हुआ। सेना को राजनीति में घसीटना ठीक नहीं है। सेना पर सियासत ठीक नहीं है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि इस संदर्भ में आपकी ओर से लगाए गए आरोपों को लेकर सैन्यबलों के मनोबल पर प्रतिकूल असर होने का खतरा है। सार्वजनिक जीवन का अनुभव रखने वाले आपके जैसे कद के व्यक्ति से ऐसी उम्मीद नहीं थी।

आपको बता दें पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों में बीते दिनों टोल प्लाजा पर सैन्‍य अभ्‍यास के तहत सेना की मौजूदगी को लेकर विवाद हुआ था। ममता ने केंद्र पर आरोप लगाया था कि उसने पश्चिम बंगाल के टोल प्लाजा पर राज्य सरकार को सूचित किए बिना ही सेना तैनात कर दी थी।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it