Top
Begin typing your search...

रक्षामंत्री मनोहर ने कर दिखाया कमाल

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
manohar parrikar

नई दिल्लीः भ्रष्टाचार को लेकर मोदी सरकार ने आज भी प्रतिबध्दता दिखाई, जिसमे रक्षामंत्री मनोहर ने कमाल कर दिखाया। आय से अधिक संपत्ति के मामले में सेना के दो मेजर जनरलों के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिए गए हैं। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने मेजर जनरल अशोक कुमार और मेजर जनरल एसएस लांबा के खिलाफ मिली शिकायतों के बाद ये आदेश जारी किए।


सेना के इतिहास में पहली बार

मोदी सरकार के कार्यकाल में सेवारत वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के खिलाफ जांच का अपनी तरह का ये पहला आदेश है। सेना के इतिहास में ये पहली बार है जब इतने बड़े अधिकारियों के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश हुए हैं। रक्षा सूत्रों के मुताबिक दोनों अफसरों के खिलाफ काफी शिकायतें मिली थीं जिनके बाद इस तरह के जांच के आदेश जारी किए गए हैं।


सीबीआई जांच के आदेश दिए
भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के तहत रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं और सीबीआई इन दोनों अफसरों की सभी चल-अचल संपत्ति की जांच करेगी। रक्षा मंत्रालय को आरोपी अफसरों के खिलाफ लेफ्टिनेंट जनरल की रैंक पर प्रमोशन के लिए घूस देने की शिकायतें भी मिली थीं। प्रमोशन बोर्ड को पूर्व सैन्य सचिव लेफ्टिनेंट जनरल राजीव भल्ला के कार्यकाल में मंजूरी मिली थी। इस केस में रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल भल्ला पर भी सवाल उठे थे।
Special News Coverage
Next Story
Share it