Home > Archived > पढ़ें - प्रभु के रेल बजट पर क्या बोले लालू-नीतीश

पढ़ें - 'प्रभु' के रेल बजट पर क्या बोले 'लालू-नीतीश'

 Special News Coverage |  25 Feb 2016 1:08 PM GMT

 रेल बजट पर बोले 'लालू-नीतीश'
रेल बजट पर बोले 'लालू-नीतीश'


नई दिल्ली : रेल बजट पर प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। एक ओर प्रधानमंत्री समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता रेल बजट का गुनगान कर रहे हैं तो दूसरी ओर विपक्ष रेल मंत्री को निशाने पर लेने में जुटा है।

lalu

'प्रभु' के रेल बजट पर क्या बोले लालू -
राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि रेल बजट में जनता से धोखा किया गया है क्योंकि इसमें कुछ भी नहीं है। लालू ने कहा कि बजट में 'सुरक्षा' पहलू की भी कोई चिंता नहीं की गई है । लालू ने संवाददाताओं से कहा, 'यह खत्म हो गया। बजट पटरी से उतर गया। रेल बजट में कुछ नहीं है। इसमें लोगों से धोखा किया गया है। आम बजट पेश हो जाने दीजिए और सब बंटाधार हो जाएगा।'


यूपीए वन के शासनकाल में रेल मंत्री रह चुके लालू ने कहा कि बतौर रेल मंत्री अपने कार्यकाल में उन्होंने 60 हजार करोड़ रुपये की अतिरिक्त आमदनी का लक्ष्य हासिल किया था । उन्होंने रेल बजट के लिए सरकार से कुछ नहीं मांगा था। लालू ने कहा कि देश में मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग हैं जहां हर साल सैंकड़ों लोग मारे जाते हैं। उन्होंने कहा कि बजट में सुरक्षा पहलू की चिंता नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि ट्रेनें समय से नहीं चल रही हैं और कमाई के वैकल्पिक उपाय तलाशे जाने चाहिए थे।

nitish-kumar

'प्रभु' के रेल बजट पर क्या बोले CM नीतीश -
बिहार के मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री नीतीश कुमार ने आज लोकसभा में पेश किए गए रेल बजट को ‘निराशजनक’ बताते हुए कहा कि इसमें स्वच्छता, सुरक्षा और ट्रेनों के नियत समय पर चलने को लेकर कोई भी कारगर बात नहीं कही गई है।

उन्होंने कहा कि कहा गया है कि किराया नहीं बढ़ाया गया, तो इस बार तो किराया घटना चाहिए था। जब दुनिया के बाजार में तेल की कीमत घट गई और रेलवे तेल का सबसे बड़ा उपभोक्ता है तो वैसी स्थिति में यात्री और माल भाड़ा घटना चाहिए था। उन्होंने कहा कि एक बात विचित्र लगी कि ट्रेनों में सुविधाओं के बारे में कुछ स्पष्ट नहीं किया गया है।

नीतीश ने कहा कि जब वह रेल मंत्री थे तो जन साधारण एक्सप्रेस ट्रेन चलाई गई थी और वह पहली एेसी ट्रेन थी जिसमें सारे डिब्बे अनारक्षित थे और पहली बार अनारक्षित डिब्बों को एक-दूसरे से जोडा गया था। उसमें कई तरह के सुरक्षा के उपाय किए गए थे तथा यात्रियों की सुविधा का ख्याल रखा गया था।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top