Home > Archived > माफ़ी नहीं मांगूंगी, संसद के भीतर सांसद के रूप में कुछ आतंकवादी बैठे हैं- साध्वी प्राची

माफ़ी नहीं मांगूंगी, संसद के भीतर सांसद के रूप में कुछ आतंकवादी बैठे हैं- साध्वी प्राची

 Special News Coverage |  28 April 2016 8:17 AM GMT

Sadhvi Prachi
नई दिल्ली
विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने एक बार फिर से अपने विवादास्पद आरोप को दोहराया है कि संसद के भीतर भी सांसद के रूप में कुछ आतंकवादी बैठे हैं। इस बयान को लेकर बुधवार को वे राज्यसभा की विशेषाधिकार समिति के सामने पेश हुईं और कहा कि वे अपने इस बयान पर कायम हैं। आपको याद होगा कि साध्वी प्राची के इस बयान पर काफी बवाल मचा था। समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने इस मामले की शिकायत राज्यसभा की विशेषाधिकार समिति से कर दी थी। साध्वी प्राची ने बुधवार को विशेषाधिकार समिति के सामने इस बयान पर माफी मांगने से साफ इंकार कर दिया।



विशेषाधिकार समिति ने साध्वी से माफी मांगने को कहा
साध्वी प्राची विशेषाधिकार समिति के सामने अपने वकील के साथ पेश हुईं। कमेटी के अध्यक्ष पीजे कुरियन ने उनसे कहा कि वह अपने बयान के लिए माफी मांगे और यह वादा करें करेगी अब से वह ऐसी बात नहीं करेंगे। लेकिन कमेटी के सदस्य हैरान रह गए जब साध्वी प्राची ने माफी मांगने से साफ इंकार कर दिया और दो टूक कहा कि वह अपनी बात पर कायम हैं।


साध्वी बोलीं- मैं डरने वाली नहीं

विशेषाधिकार समिति की मीटिंग से बाहर आकर साध्वी प्राची ने कहा कि उन पर दबाव बनाने की पूरी कोशिश की गई लेकिन वो डरने वाली नहीं है। साध्वी प्राची ने अपने आरोप को दोहराते हुए कहा कि जो लोग भारत माता की जय बोलने को तैयार नहीं हैं और देश के टुकड़े करना चाहते हैं उनके बारे में और क्या कहा जा सकता है? विशेषाधिकार समिति अपनी अगली बैठक में तय करेगी साध्वी प्राची के खिलाफ क्या कार्यवाही की जाए।


पहले भी विवादित बयान देती रही हैं साध्वी

साध्वी प्राची अपने बयानों को लेकर लगातार विवाद में रहती हूं। इससे पहले उन्होंने यह भी कहा था कि लोगों को तीनों खान की फिल्मों का बहिष्कार करना चाहिए क्योंकि उनकी फिल्मों से लव जेहाद को बढ़ावा मिलता है। अनुपम खेर से भी उनकी तू-तू मैं-मैं हुई थी जब अनुपम खेर ने यह कहा था कि साध्वी प्राची जैसे लोगों को जेल भेज देना चाहिए।

स्मृति ईरानी के खिलाफ भी हुई सुनवाई
विशेषाधिकार समिति में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ की गई शिकायत पर भी सुनवाई हुई। सीपीएम के सांसद सीताराम येचुरी ने स्मृति ईरानी के खिलाफ शिकायत की थी। उन्होंने जेएनयू मामले पर संसद में गलत बयानी करके संसद को बरगलाया है। यह तय हुआ कि स्मृति ईरानी को नोटिस भेजा जाएगा कि वह कमेटी के सामने आकर अपनी सफाई पेश करें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top