Top
Breaking News
Home > Archived > 19 दिसंबर से है गांधी फैमिली का संयोग, जानिए कैसे

19 दिसंबर से है गांधी फैमिली का संयोग, जानिए कैसे

 Special News Coverage |  19 Dec 2015 3:55 PM GMT



नई दिल्ली : गांधी परिवार के साथ 19 दिसंबर का खास संयोग है। 19 दिसंबर, 1978 को ही पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और संजय को तिहाड़ जेल भेजा गया था। सोनिया और राहुल भी हेराल्ड केस की सुनवाई के लिए 19 दिसंबर को कोर्ट में पेश हुए। सोनिया-राहुल को पटियाला हाउस कोर्ट से जमानत मिली।

साल 1978 में इसी दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को जेल जाना पड़ा था। 19 दिसंबर, 1978 को संसद की कार्यवाही से इंदिरा गांधी को निलंबित कर दिया गया था।


तत्कालीन मोरारजी देसाई की सरकार ने इसके बाद उन्हें संसद के सत्र जारी रहने तक के लिए जेल भेज दिया गया था। उन पर संसदीय विशेषाधिकार के हनन का आरोप था। इंदिरा संसद भवन में गिरफ्तारी के आदेश मिलने तक टिकी रहीं। आखिरकार रात के आठ बजकर 47 मिनट पर उन्हें स्पीकर के दस्तखत वाला अरेस्ट ऑर्डर दिया गया। गिरफ्तारी के बाद वह संसद के उसी दरवाजे से बाहर निकलीं जहां से वह प्रधानमंत्री की हैसियत से बाहर निकला करती थीं।

उन्हें तिहाड़ जेल के वार्ड नंबर 19 में रखा गया था। इस गिरफ्तारी के बाद तकरीबन हफ्ते भर तक इंदिरा गांधी दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद रही थीं। कहा जाता है कि इस दौरान सोनिया गांधी खुद खाना लेकर इंदिरा के लिए तिहाड़ जेल जाती थी। ऐसे में 19 दिसंबर एक बार फिर से कांग्रेस के लिए मुश्किल की घड़ी लेकर आया है।

हालांकि इससे पहले जनता सरकार के समय इंदिरा गांधी की तीन अक्टूबर, 1977 को भी गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में उन्हें तकनीकी आधार पर रिहा कर दिया गया।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी नेशनल हेराल्ड मामले में शनिवार को पटियाला हाउस अदालत में पेशी के लिए पहुंचे थे। कोर्ट ने सोनिया और राहुल गांधी को 50-50 हजार के निजी मुचलके पर जमानत दे दी है। कोर्ट ने इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 20 फरवरी की तारीख तय की है।

वहीं, नेशनल हेराल्‍ड केस में पटियाला हाउस अदालत से जमानत मिलने के बाद कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस मुख्‍यालय में पत्रकारों से कहा कि मैं आज अदालत में साफ मन से पेश हुई, जैसा कि कानून का पालन करने वाले किसी भी शख्‍स को करना चाहिए। देश का कानून बिना किसी भय और पक्षपात के लिए सभी पर लागू होता है।

अदालत में साफ मन से पेश हुई : सोनिया
उन्‍होंने कहा कि मुझे जरा भी संदेह नहीं की सच्‍चाई सामने आएगी। हम राजनीतिक विरोधियों के हमलों से वाकिफ है। यह सिलसिला पीढि़यों से चला आ रहा है। यह और बात है कि ये लोग हमें कभी भी अपने रास्‍ते से हटा नहीं पाए। केंद्र सरकार अपने विरोधियों को जान- बूझकर निशाना बना रही है और इसके लिए सरकारी एजेंसी का पूरा इस्‍तेमाल कर रही है। हम डरने वाले नहीं हैं। इनके खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। कांग्रेस के सिद्धांतो और गरीबों के हितों के लिए हमारा संघर्ष जारी रहेगा।

मोदी जी झूठे इल्‍जाम लगवाते हैं : राहुल गांधी
राहुल गांधी ने कहा कि मैं कानून का आदर करता हूं। मोदी जी झूठे इल्‍जाम लगवाते हैं और वो सोचते हैं कि विपक्ष झुक जाएगा। देश के सभी नागरिकों को बता देना चाहता हूं कि हम नहीं झुके हैं। हम गरीबों के लिए लड़ते रहेंगे और विपक्ष का काम करते रहेंगे। एक इंच भी पीछे नहीं जाएंगे।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it