Top
Home > Archived > अब्बास बोले मांफी मांगे आजाद, अगर कुछ गलत है तो विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाओ

अब्बास बोले मांफी मांगे आजाद, अगर कुछ गलत है तो विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाओ

 Special News Coverage |  14 March 2016 8:35 AM GMT


CdfIoa3UYAAprkO
नई दिल्ली
आरएसएस की तुलना ISIS से करने राज्य सभा में सोमवार को भाजपा सांसदों ने हंगामा किया। सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने जो बयान दिया है उस पर कांग्रेस माफी मांगे।

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने राज्यसभा में अपने उस बयान की सीडी दी और सफाई दी कि उन्होंने आरएसएस और आईएसआईएस की तुलना नहीं की। आजाद ने अपने बयान पर आज सफाई भी दी। उन्होंने कहा कि उनके बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया।उन्होंने कहा कि अगर उनके भाषण में कुछ भी गलत हो तो आप सभी उनके खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव ला सकते हैं।


गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर एक टिप्पणी करते हुए कहा था कि देश को कथित तौर पर बांटने वाला आतंकी संगठन आईएसआईएस और आरएसएस एक जैसे ही हैं।

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष ने मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद की ओर से आयोजित राष्ट्रीय एकता सम्मेलन में कहा, 'हम आईएस जैसे आतंकी संगठनों का उसी तरह विरोध करते हैं जैसे आरएसएस का विरोध करते हैं। अगर इस्लाम में ऐसे लोग हों जो गलत चीजें करते हैं, तो वे आरएसएस से किसी तरह कम नहीं हैं।

उधर, भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने आजाद के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा, आरएसएस एक राष्ट्रवादी संगठन है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए या फिर सोनिया गांधी को उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it