Top
Home > राजनीति > अमित शाह की राहुल गांधी और ममता बनर्जी को चुनौती, कहा- CAA से नागरिकता जाने की बात को साबित करके दिखाएं...

अमित शाह की राहुल गांधी और ममता बनर्जी को चुनौती, कहा- CAA से नागरिकता जाने की बात को साबित करके दिखाएं...

 Arun Mishra |  12 Jan 2020 1:26 PM GMT  |  दिल्ली

अमित शाह की राहुल गांधी और ममता बनर्जी को चुनौती, कहा- CAA से नागरिकता जाने की बात को साबित करके दिखाएं...
x

नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) पर जारी घमासान के बीच गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने एक बार फिर साफ किया कि इससे देश के किसी भी नागरिक की नागरिकता नहीं जाएगी. मध्यप्रदेश के जबलपुर में नागरिकता कानून के समर्थन में जन जागरण अभियान के दौरान अमित शाह ने कहा कि भारत पर जितना अधिकार मेरा और आपका है, उतना ही अधिकार पाकिस्तान से आए हुए हिंदू, सिख, बौद्ध और ईसाई शरणार्थियों का है. नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन देशहित में है.

उन्होंने कहा कि CAA पर भाजपा एक जन जागरण अभियान चला रही है. ये जन जागरण अभियान इसलिए चलाया जा रहा है, क्योंकि कांग्रेस पार्टी, केजरीवाल, ममता बनर्जी, कम्यूनिस्ट ये सभी इकट्ठा होकर देश को गुमराह कर रहे हैं. गृह मंत्री ने ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को चुनौती देते हुए कहा कि नागरिकता कानून में एक प्रावधान बता दीजिए जो इस देश में किसी से भी नागरिकता ले सकता है. उन्होंने कहा, 'मैं राहुल बाबा और ममता बनर्जी को चुनौती देता हूं कि सीएए में एक प्रावधान बता दीजिए जिससे किसी की नागरिकता जा सकती है.'



अमित शाह ने कहा, 'देश के अल्पसंख्यकों को उकसाया जा रहा है कि आपकी नागरिकता चली जाएगी. मैं देश के अल्पसंख्यक भाइयों-बहनों से कहने आया हूं कि CAA को पढ़ लें इसमें कहीं पर भी किसी की भी नागरिकता जाने का कोई प्रावधान नहीं है. उन्होंने कहा कि भारत पर जितना अधिकार मेरा और आपका है, उतना ही अधिकार पाकिस्तान से आए हुए हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई शरणार्थी का है.

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कहा JNU में कुछ लड़कों ने भारत विरोधी नारे लगाए, उन्होंने नारे लगाए 'भारत तेरे टुकड़े हो एक हज़ार, इंशाअल्लाह इंशाअल्लाह.' ऐसे लोगों को जेल में डालना चाहिए या नहीं? जो देश विरोधी नारे लगाएगा उसका स्थान जेल की सलाखों के पीछे होगा. इसके अलावा उन्होंने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा, 'कमलनाथ जी जोर-जोर से कहते हैं CAA लागू नहीं होगा, अरे कमलनाथ जी ये जोर से बोलने की आयु नहीं है आपका स्वास्थ बिगड़ जाएगा. अगर इतना जोर बाकी है तो मध्य प्रदेश को ठीक करिए.

इससे पहले पीएम मोदी ने भी कोलकता में कहा था कि सीएए नागरिकता छीनने का नहीं, नागरिकता देने का कानून है. पीएम मोदी ने कहा, 'देश के नागरिकों के मन में नागरिकता कानून को लेकर तरह-तरह के सवाल भर दिए गए हैं. बहुत से युवा जागरूक हैं लेकिन कुछ युवाओं को भ्रमित कर दिया गया है. उन्हें समझाना भी हमारी जिम्मेदारी है. राष्ट्रीय युवा दिवस पर देश के युवाओं से कहना चाहता हूं कि ऐसा नहीं है कि देश की नागरिकता देने के लिए सरकार ने रातोंरात कोई कानून बना दिया है. हमें पता होना चाहिए कि दूसरे देश का कोई भी व्यक्ति भारत की नागरिकता ले सकता है. इसमें कोई दुविधा नहीं है. ये एक्ट नागरिकता छीनने का नहीं बल्कि देने का कानून है.'

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it