Top
Begin typing your search...

गुजरात का दंगा अगर दंगा है तो मुजफ्फरनगर का दंगा क्या खेलकूद प्रतियोगिता था - अमर सिंह

गुजरात का दंगा अगर दंगा है तो मुजफ्फरनगर का दंगा क्या खेलकूद प्रतियोगिता था - अमर सिंह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सपा के पुराने सिपाही के बदले रुख में राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने अपने पुराने विरोधी आज़म खान को लपेटते हुए कहा कि अगर गुजरात के दंगा दंगा है तो मुजफ्फरनगर के दंगा क्या आजम खान की खेलकूद प्रतियोगिता थी.


अमर सिंह आज तक पर एक कार्य्रकम के दौरान एंकर के सवाल के दौरान कह रहे थे. बोले आज में व्याकुल हूँ कि देश में पूरे परिपेक्ष्य में साम्प्रदायिकता और धर्मनिरपेक्षता का भेद लुप्त हो गया है. हम गुजरात दंगे की बात करते है और करनी भी चाहिए. लेकिन उस दंगे की भी बात होनी चाहिए जिसने गुजरात को भी शर्मशार कर दिया था. ये दंगे यूपी के मुजफ्फरनगर में हुए जिसमें गुजरात भी काफी पीछे नजर आया.


उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में भी यंहा हिन्दू मुस्लिम दंगे हुए लेकिन इस तरह की वारदात कभी नहीं हुई. इस बार तो गाजर मुली की तरह लोग काटे गए. जबकि एसा यंहा पहली बात देखने को मिला यंहा की हिन्दू मुस्लिम एकता की मिशाल दी जाती थी. तब एक बात जरुर दिमाग में गूंजती है. वो ये कि अगर गुजरात के दंगों को दंगा कहा जायेगा तो इन दंगों को आज़म की खेलकूद प्रतियोगिता माना जाएगा.

Special Coverage News
Next Story
Share it