Home > राजनीति > BJP नेता ने ओवैसी को दिया जवाब- हिस्सेदारी की बात न करें, 1947 में ही दे दी थी

BJP नेता ने ओवैसी को दिया जवाब- हिस्सेदारी की बात न करें, 1947 में ही दे दी थी

ओवैसी ने देश के मुसलमानों की बात करते हुए कहा था कि वो किराएदार नहीं हैं, बल्कि हिस्सेदार बनकर रहेंगे.

 Special Coverage News |  2 Jun 2019 6:03 AM GMT  |  दिल्ली

BJP नेता ने ओवैसी को दिया जवाब- हिस्सेदारी की बात न करें, 1947 में ही दे दी थी

नई दिल्ली : ऑल इंडिया मजलिस-ए इत्तेहादुल मुसलिमीन (AIMIM) के चीफ और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर विवाद गहराता जा रहा है. अब ओवैसी के बयान पर भारतीय जनता पार्टी के नेता माधव भंडारी ने कहा है कि उन्हें सोच-समझकर बोलना चाहिए. इतना ही नहीं, ये नसीहत देते हुए भंडारी ने यहां तक कह दिया कि ओवैसी अगर हिस्सेदारी की भाषा बोलेंगे तो हिस्सेदारी 1947 में दे दी गई.

केंद्र में दूसरी बार प्रचंड बहुमत से मोदी सरकार आने के बाद असदुद्दीन ओवैसी लगातार प्रतिक्रिया दे रहे हैं. इस कड़ी में उन्होंने कहा है कि अगर कोई ये समझ रहा है कि हिंदुस्तान के पीएम 300 सीट जीत कर देश पर मनमानी करेंगे तो ऐसा नहीं हो सकता.

ओवैसी ने यह भी कहा है कि हम हिंदुस्तान को आबाद रखेंगे, हम यहां पर बराबर के हकदार हैं, किराएदार नहीं हैं हिस्सेदार रहेंगे.



बीजेपी नेता ने दिया यह बयान

ओवैसी के इसी बयान पर महाराष्ट्र के बीजेपी नेता माधव भंडारी ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने न सिर्फ ओवैसी को सोच-समझकर बोलने की नसीहत दी है, बल्कि आजादी के बाद भारत के बंटवारे से बने पाकिस्तान की भी याद दिला दी है. भंडारी ने ओवैसी को जवाब देते हुए कहा, 'उनको किसी ने किराएदार नहीं कहा, लेकिन हिस्सेदारी की भाषा बोलेंगे तो हिस्सेदारी 1947 में दे दी तो मामला खत्म हो गया.'

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी की जीत के बाद पीएम मोदी ने अल्पसंख्यकों के साथ छल और उन्हें भयभीत रखने की बात कही थी, जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए ओवैसी ने पूछा था कि अगर पीएम को लगता है मुसलमान डर में रहते हैं, तो क्या वह उन गिरोहों को रोकेंगे, जो गाय के नाम पर मुसलमानों की हत्या कर रहे हैं. इस बयान के बाद ओवैसी ने देश के मुसलमानों की बात करते हुए कहा था कि वो किराएदार नहीं हैं, बल्कि हिस्सेदार बनकर रहेंगे. ओवैसी के इसी बयान पर भंडारी ने कहा है कि उन्हें कोई किराएदार नहीं बता रहा है, लेकिन हिस्सेदारी 1947 में दी दी गई है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top