Top
Home > राजनीति > बेरोजगारी के मुद्दे वाले बयान पर संतोष गंगवार घिरे, मायावती, प्रियंका गांधी और संजय सिंह के सवालों के क्या देगें अब जवाब?

बेरोजगारी के मुद्दे वाले बयान पर संतोष गंगवार घिरे, मायावती, प्रियंका गांधी और संजय सिंह के सवालों के क्या देगें अब जवाब?

 Sujeet Kumar Gupta |  15 Sep 2019 11:16 AM GMT  |  नई दिल्ली

बेरोजगारी के मुद्दे वाले बयान पर संतोष गंगवार घिरे, मायावती, प्रियंका गांधी और संजय सिंह के सवालों के क्या देगें अब जवाब?

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने मोदी सरकार के सौ दिन पूरे होने पर बरेली में कहा कि देश में रोजगारों की कमी नहीं है। कई जगह वैकेंसी निकलती है लेकिन वहां योग्य उम्मीदवार नहीं मिल पाते हैं। आवश्यकता बदलते जमाने के अनुसार अपने को ढालने की है। उन्होंने कहा कि उत्तर भारत में कम्पनियों की मांग के अनुसार योग्य उम्मीदवारों की कमी है। इसको लेकर आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ,कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और बसपा प्रमुख मायावती ने पलटवार किया है। कांग्रेस महासचिव ने कहा है कि जो नौकरियां थीं वो सरकार द्वारा लाई गई आर्थिक मंदी के कारण छिन रही हैं। मायावती ने मंत्री के बयान को बहुत ही शर्मनाक बताया है।

मायावती ने किया ट्वीट, देश से माफी मांगनी चाहिए

केंद्रीय मंत्री गंगवार के बयान पर रविवार को मायावती ने ट्वीट किया " देश में छाई आर्थिक मंदी आदि की गंभीर समस्या के सम्बंध में केंद्रीय मंत्रियों के अलग-अलग हास्यास्पद बयानों के बाद अब देश व खासकर उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने के बजाय यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं, बल्कि योग्यता की कमी है, अति शर्मनाक है, जिसके लिये देश से माफी मांगनी चाहिए।

प्रियंका ने लिखा, न करें उत्तर भारतीयों का अपमान

प्रियंका वाड्रा ने अपने ट्वीट में लिखा " मंत्री जी, पांच साल से ज्यादा आपकी सरकार है। नौकरियां पैदा नहीं हुईं। जो नौकरियां थी, वो सरकार द्वारा आर्थिक मंदी के चलते छिन रही हैं। नौजवान रास्ता देख रहे हैं कि सरकार कुछ अच्छा करे। आप उत्तर भारतीयों का अपमान करके बच निकलना चाहते हैं, ये नहीं चलेगा।

वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने मोदी के मंत्री के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान बताया है. उन्होंने कहा कि इस सरकार में ही योग्यता की कमी है. मंत्री बताएं कि चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार है. संजय सिंह ने कहा कि संतोष गंगवार खुद ही उत्तर भारत से आते हैं. इस तरह के बयान का क्या मतलब है.

क्या था गंगवार का बयान

संतोष गंगवार ने कहा कि हमारे उत्तर प्रदेश में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं उस क्वालिटी का व्यक्ति हमें नहीं मिल रहा है. कमी है तो योग्य लोगों की.

मंत्री का कहना है कि हम इसी मंत्रालय को देखने का काम करते हैं. इसलिए मुझे जानकारी है कि देश में रोजगार की कोई कमी नहीं है. रोजगार बहुत है. रोजगार दफ्तर के आलावा हमारा मंत्रालय भी इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है. रोजगार की कोई समस्या नहीं है बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है. मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है.रोजगार की कमी नहीं, एक्सपर्ट की कमी

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it