Top
Begin typing your search...

चोरी के आरोप में दलित युवक के प्राइवेट पार्ट में डाल दिया पेट्रोल से सना पेचकस, BJP ने कांग्रेस पर साधा निशाना

नागौर की घटना के बाद घिरी कांग्रेस, बीजेपी नेता शलभमणि त्रिपाठी ने किया जोरदार हमला

चोरी के आरोप में दलित युवक के प्राइवेट पार्ट में डाल दिया पेट्रोल से सना पेचकस, BJP ने कांग्रेस पर साधा निशाना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राजस्थान के नागौर स्थित पांचौड़ी में चोरी के आरोप में दो दलित युवकों को इतनी भयावह सजा दी गई कि देखने वालों के भी होश फाख्ता हो गए। यह घटना 16 फरवरी की है। बेरहमी का यह विडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस विडियो के जरिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कांग्रेस शासित राजस्थान सरकार पर जोरदार हमला किया है। बीजेपी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और राहुल गांधी से इस मामले को लेकर सवाल भी पूछे हैं। उधर, राहुल गांधी ने पूरी घटना को लेकर ट्वीट किया है।

राहुल ने लिखा है कि राजस्थान के नागौर में दो दलित युवकों को बुरी तरह से पीटने का मामला सामने आया है। मैं राज्य सरकार से आग्रह करता हूं कि वे इस घटना को संज्ञान में लेकर कार्रवाई करें ताकि पीड़ितों को न्याय मिल सके। बता दें कि यूपी बीजेपी के प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने लिखा था, 'श्रीमान राहुल गांधी जी, प्रियंका गांधी वाड्रा जी, ये भी दलित हैं। बस फर्क इतना है कि ये बर्बर अत्याचार आपकी हुकूमत में राजस्थान में हो रहा है, इसीलिए इनका दर्द आपको नजर नहीं आएगा, सहानुभूति का सियासी नाटक फैलाने के लिए तो आपको बीजेपी शासित राज्य चाहिए, हद है इस ओछी सियासत की।'



राजस्थान सीएम ने सफाई

जैसे ही विपक्ष ने इस मुद्दे पर कांग्रेस को घेरना शुरू किया आनन-फानन राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मामले में सफाई दे दी। उन्होंंने कहा, 'नागौर में हुई भयावह घटना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में कोई भी नहीं बच पाएगा। कानून के मुताबिक अपराधियों को सजा मिलेगी और हम इस बात के लिए आश्वस्त करेंगे कि पीड़ितों के साथ न्याय हो।



क्या है पूरा मामला?

पीड़ित द्वारा दी गई शिकायत के मुताबिक, 16 फरवरी को वह अपने चचेरे भाई के साथ बाइक की सर्विस के लिए करणु गांव में एजेंसी में गया था। वहां कुछ लोगों ने उन पर चोरी का आरोप लगा दिया। जब युवकों ने कहा कि उन्होंने ऐसा नहीं किया तो वे दोनों युवकों को एजेंसी के पीछे ले गए और वहां जमकर पिटाई की। इतना ही नहीं, आरोपियों ने पेचकस पर पेट्रोल से गीला कपड़ा लपेटकर प्राइवेट पार्ट में डाल दिया।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it