Top
Home > राज्य > राजस्थान > पीएम मोदी बोले- कांग्रेस की गलती की वजह से आज करतापुर साहिब पाकिस्तान में हैं

पीएम मोदी बोले- 'कांग्रेस की गलती की वजह से आज करतापुर साहिब पाकिस्तान में हैं'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिकर में कांग्रेस पर जमकर बरसी और जनता को अपने पक्ष में करने के लिए वसुंधरा सरकार की उपलब्धियों को गिनवाया

 Special Coverage News |  4 Dec 2018 11:55 AM GMT  |  दिल्ली

पीएम मोदी बोले- कांग्रेस की गलती की वजह से आज करतापुर साहिब पाकिस्तान में हैं
x

राजस्थान में चुनाव प्रचार अपने आखिरी दौर में पहुंच गया है, जनता को अपने पक्ष में करने के लिए बीजेपी, कांग्रेस समेत तमाम पार्टियां आखिरी कोशिश में लगे हुए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिकर में कांग्रेस पर जमकर बरसी और जनता को अपने पक्ष में करने के लिए वसुंधरा सरकार की उपलब्धियों को गिनवाया. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस फतवा लेकर आई है कि रैली की शुरुआत भारत माता की जय बोलकर नहीं होना चाहिए. वो इससे कैसे इंकार कर सकते हैं? उन्हें ऐसा बोलने के लिए शर्मिंदा होना चाहिए. यह दिखाता है कि वो (कैसे) हमारी जन्मभूमि का निरादर कर रहे हैं.

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा, 'देश के जवान जब सर्जिकल स्ट्राइक करके आए तो पूरा देश जोश और जज्बे से भरा था, पर कांग्रेस में ऐसा लग रहा था जैसे कोई शोक सभा हो. आपने (कांग्रेस) जब खबर सुनी आपको शक हुआ? कांग्रेस ऑफिस में बैठे नामदार कह रहे थे मोदी झूठ बोल रहे हो.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस पर करतारपुर साहिब को पाकिस्तान में जाने देने की 'गलती' करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि कांग्रेस आजादी के बाद 'सत्ता की छीना-झपटी' में व्यस्त थी. उन्होंने यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, पार्टी ने इस पवित्र स्थान के साथ जुड़ी लाखों सिखों की भावनाओं को नजरअंदाज किया.'

मोदी ने कहा कि देश में शासन करने के 70 वर्षो के दौरान भी कांग्रेस करतारपुर में सिखों के मत्था टेकने का प्रबंध नहीं कर पाई. उन्होंने कहा कि वह भाग्यशाली हैं कि करतारपुर गलियारे के निर्माण का कार्य उनके जिम्मे आया.

मोदी ने कहा, 'हम सत्ता के मोह को समझ सकते हैं, लेकिन मैं आश्चर्यचकित हूं कि कैसे इस तरह के मोह में संतुलन बिगड़ गया और इस तरह की गलतियां हो गईं. जब 1947 में भारत को आजादी मिली, जब यहां विभाजन हुआ, तब गद्दी हथियाने की इस तरह की जल्दबाजी थी कि वे नहीं देख सके कि धर्म के आधार पर किए गए विभाजन में, जिसमें मुस्लिम एक नया देश चाहते थे और इस तरह की गलतियां कर बैठे कि गुरु नानक देव की शिक्षाओं और उनके अंतिम समय का स्थान पाकिस्तान में चला गया.'

उन्होंने कहा, 'अगर उन्होंने जरा-सी भी समझदारी, बुद्धिमत्ता दिखाई होती तो हमारा करतारपुर, जो हमारी सीमा से महज तीन किलोमीटर दूर है, हमसे दूर नहीं जाता.'

मोदी ने कहा, 'कांग्रेस 70 वर्षो तक सत्ता में रही, लड़ाइयां लड़ी गईं, लड़ाइयां जीती भी गईं. बड़े-बड़े वादे भी किए गए. लेकिन वह लोगों के लिए गुरु नानक देवजी के अंतिम स्थान में मत्था टेकने का प्रबंध नहीं करा सके.'उन्होंने कहा, 'यह मेरा सौभाग्य है कि करतारपुर गलियारा बनाने का काम मेरे जिम्मे आया.'

बता दें कि इससे पहले राजस्थान के चितौड़गढ़ में बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने चुनावी रैली करते हुए कहा, एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में देशभक्‍तों की फौज है तो दूसरी तरफ राहुल गांधी के नेतृत्‍व में कांग्रेस पार्टी की न तो कोई नीति है और न कोई सिद्धांत. जनतो को बीजेपी और कांग्रेस में से एक को चुनना है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it