Top
Home > Archived > आज है प्रथम नवरात्र, मां शैलपुत्री को ऐसे करें प्रसन्न

आज है प्रथम नवरात्र, मां शैलपुत्री को ऐसे करें प्रसन्न

 Special News Coverage |  13 Oct 2015 6:35 AM GMT

shailputri mata navratri


नवरात्र शब्‍द पर गौर करें, तो इसका मतलब दो शब्‍दों में समझ में आता है। पहला 'नव' और दूसरा 'रात्रि'। इसका मतलब है नौ रातें। मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-अर्चना के साथ मनाया जाने वाला ये सबसे बड़ा त्‍योहार है। वहीं हिंदू कैलेंडर पर गौर करें तो हर अश्‍विन शुक्‍ल पक्ष की नवी तिथि अर्थात प्रतिपदा से मां दुर्गा की पूजा शुरू कर दी जाती है। पूरे देशभर में इन नवरात्रों में मां के इन्‍हीं नौ रूपों की पूजा-अर्चना की जाती है।


मंगलवार 13 अक्टूबर से नवरात्रि प्रारंभ हो गया है। मां दुर्गा के शैलपुत्री रूप की पूजा करने के लिए सुबह से ही मंदिरों में माता के भक्तों की भीड़ लग गई। यह मां पार्वती का ही अवतार है। मां शैलपुत्री पर्वतराज हिमालय की पुत्री हैं, इसलिए इन्हें पार्वती एवं हेमवती के नाम से भी जाना जाता है। मां शैलपुत्री की आराधना से मन वांछित फल मिलता है।

इस मंत्रोच्चार के साथ करें शैलपुत्री पूजा-
'वन्दे वाञ्छितलाभाय चन्द्रार्धकृतशेखराम्।
वृषारुढां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्॥'

मां शैलपुत्री की आराधना से मनोवांछित फल और कन्याओं को उत्तम वर की प्राप्ति होती है। साथ ही साधक को मूलाधार चक्र जाग्रत होने से प्राप्त होने वाली सिद्धियां हासिल होती हैं।



style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">



प्रधानमंत्री ने दी बधाई
पीएम मोदी ने इस अवसर पर ट्वीट कर कहा कि मैं नवरात्रि के पावन अवसर पर देश के प्रत्येक नागरिक को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।




href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें





style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">


स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it