Top
Breaking News
Home > Archived > BCCI दफ्तर में घुसकर शिवसैनिकों ने काटा हंगामा, पाक क्रिकेट बोर्ड अध्यक्ष का किया विरोध

BCCI दफ्तर में घुसकर शिवसैनिकों ने काटा हंगामा, पाक क्रिकेट बोर्ड अध्यक्ष का किया विरोध

 Special News Coverage |  19 Oct 2015 6:54 AM GMT

bcci


मुंबई : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान और बीसीसीआई प्रमुख शशांक मनोहर की सोमवार को मुंबई में होने वाली बैठक से पहले शिवसैनिकों ने बीसीसीआई दफ्तर में हमला बोल दिया। शहरयार बीसीसीआई के नए प्रेसिडेंट मनोहर के साथ आज ही बोर्ड के दफ्तर में मुलाकात करने वाले थे। बताया जा रहा है कि इसमें दिसंबर में पाकिस्तान के साथ क्रिकेट सीरीज खेलने के प्रपोजल पर बातचीत होने के आसार थे। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवसेना के हंगामे के बाद शहरयार के साथ मीटिंग कैंसल कर दी गई है।


शिवसेनिकों ने इस दौरान भगवा ध्वज भी फहराए। शिवसेनिकों ने शहरयार खान चले जा के नारे भी लगाए। शिवसेनिक अंगुलियां दिखा दिखाकर शशांक मनोहर को धमका रहे थे। शिवसेनिकों द्वारा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का विरोध किया गया। हंगामे की खबर मिलते ही मौके पर मुंबई पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने सभी शिवसैनिकों को वहां से बाहर निकाला। कई शिवसैनिकों को हिरासत में लिया।

वहीं, राजीव शुक्ला ने शिव सेना के विरोध को गलत बताया आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला ने कहा कि क्रिकेट सभ्य लोगों का खेल है। जो लोग इसे पसंद करते हैं उनसे सहनशीलता की उम्मीद की जाती है। उन्होंने कहा कि शिव सेना का कृत्य निंदा योग्य है। उन्हें ऐसी हरकतें रोकनी चाहिए और बीसीसीआई को क्रिकेट से संबंधित फैसले लेने दिए जाएं। बीसीसीआई एक सक्षम संस्था है और देशहित के खिलाफ कुछ भी नहीं करेगा।

उल्लेखनीय है कि शिवसेना द्वारा पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी के पुस्तक विमोचन कार्यक्रम का विरोध किया गया था तो दूसरी ओर उन्होंने पाकिस्तानी गज़ल गायक गुलाम अली के कंसर्ट का भी विरोध किया था और मुंबई और पुणे में आयोजित किए गए उनके शो को रद्द करवा दिया था।

href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें





style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">



स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it