Top
Home > खेलकूद > क्रिकेट > IND vs WI: वनडे मैच से पहले ही टीम इंडिया को लग चुके है दो झटके, इस खिलाड़ी को डेब्यू करने का मिल सकता है मौका

IND vs WI: वनडे मैच से पहले ही टीम इंडिया को लग चुके है दो झटके, इस खिलाड़ी को डेब्यू करने का मिल सकता है मौका

 Sujeet Kumar Gupta |  15 Dec 2019 6:37 AM GMT  |  चेन्नई

IND vs WI: वनडे मैच से पहले ही टीम इंडिया को लग चुके है दो झटके, इस खिलाड़ी को डेब्यू करने का मिल सकता है मौका

चेन्नई। भारत रविवार से यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा जिसमें मेजबान टीम की नजरें कैरेबियाई टीम के खिलाफ लगातार 10वीं द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला जीतने पर टिकी होंगी। दोपहर 1.30 बजे से खेला जाना है.

सीरीज से पहले ही भारत को लगे थे दो झटके

सीरीज शुरू होने से पहले ही टीम इंडिया को दो बड़े झटके लग गए थे. शिखर धवन और भुवनेश्वर कुमार के चोटिल होने से टीम को बड़ा नुकसान हुआ. उनकी जगह मयं‌क अग्रवाल और शार्दुल ठाकुर को मौका मिला. जहां मयंक ने वनडे क्रिकेट में डेब्यू नहीं किया है, वहीं शार्दुल के पास भी ज्यादा अनुभव नहीं है. ऐसे में भारतीय कप्तान के पास सबसे बड़ी चुनौती इन दोनों अनुभवी ‌खिलाड़ियों की गैर मौजूदगी में मयंक अग्रवाल, शार्दुल, शिवम दुबे, दीपक चाहर जैसे युवा खिलाड़ियों को रोहित शर्मा, केएल राहुल, मोहम्मद शमी जैसे स्टार्स सहित मैदान पर एक संयोजित टीम उतराने की है.

सभी की नजरें विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत पर भी टिकी होंगी जो पिछले कुछ समय से बल्ले और ग्लव्स के साथ प्रभावी प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। पहले वनडे के जरिये उन्हें एक बार फिर कोहली और टीम प्रबंधन के भरोसे पर खरा उतरने का मौका मिलेगा।

यह भी देखना होगा कि युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की स्पिन जोड़ी को चेपक की स्पिन की अनुकूल पिच पर एक बार फिर साथ खेलने का मौका मिलता है या नहीं। ये दोनों पिछली बार विश्व कप में एक साथ खेले थे। अनुभवी मोहम्मद शमी और दीपक चाहर संभवत: तेज गेंदबाजी आक्रमण में शामिल होंगे और उन्हें वेस्टइंडीज के आक्रामक बल्लेबाजों की चुनौती का सामना करना होगा।

वेस्टइंडीज को उम्मीद होगी कि मुंबई में अंतिम टी20 के दौरान क्षेत्ररक्षण करते हुए चोटिल हुए आक्रामक सलामी बल्लेबाज एविन लुईस एकदिवसीय श्रृंखला में खेल पाएंगे। टीम अधिकारियों का कहना है कि पहले वनडे से पूर्व उनकी चोट का आकलन किया जाएगा। वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को आक्रामक बल्लेबाजी करने के अलावा विकेट भी बचाने होंगे जिससे कि अंतिम ओवरों में तेजी से रन जुटाए जा सकें।

शिमरोन हेटमायर और निकोलस पूरन ने सबसे छोटे प्रारूप में अपनी क्षमता दिखाई है और अगर वेस्टइंडीज को भारत को चुनौती देनी है तो 50 ओवर के प्रारूप में भी उन्हें ऐसा ही करना होगा। आलराउंडर रोस्टन चेस को अंतिम एकादश में जगह मिलने की उम्मीद है और वह आक्रामक बल्लेबाजों के बीच बल्लेबाजी क्रम को स्थिरता दे सकते हैं। कप्तान कीरोन पोलार्ड को अच्छे प्रदर्शन करके टीम के अपने साथियों को प्रेरित करना होगा।

टीम के गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई शेल्डन कोटरेल करेंगे और रोहित, राहुल और कोहली की शानदार फार्म के बीच अगर मेहमान टीम को भारत को बड़ा स्कोर खड़ा करने से रोकना है जो जल्द विकेट चटकाने होंगे। लेग स्पिनर हेडन वाल्श जूनियर ने टी20 में अच्छा प्रदर्शन किया है और उनके सामने कोहली और उनकी टीम को रोकने की कड़ी चुनौती होगी जो स्पिनरों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करती है।

भारत:विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, शिवम दुबे, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, मोहम्मद शमी और शार्दुल ठाकुर।

वेस्टइंडीज: कीरोन पोलार्ड (कप्तान), सुनील अंबरीश, शाई होप, खैरी पियरे, रोस्टन चेस, अल्जारी जोसेफ, शेल्डन कोटरेल, ब्रैंडन किंग, निकोलस पूरन, शिमरान हेटमायर, एविन लुईस, रोमारियो शेफर्ड, जेसन होल्डर, कीमो पाल और हेडन वाल्श जूनियर।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it