Home > Archived > बिहार में 1500 घर जलकर राख, हादसा में 8 की मौत

बिहार में 1500 घर जलकर राख, हादसा में 8 की मौत

 Special News Coverage |  24 April 2016 11:14 AM GMT

बिहार में 1500 घर जलकर राख, हादसा में 8 की मौत

दरभंगा: एक घर में भुट्टा बनाने के दौरान आग इतनी भड़क गई कि उसने पूरे घर को जला दिया। घर के बाद आग पूरे गांव में फैल गई। कई लोगों के घर आग की भेंट चढ़ गई। इसके बाद आग ने आसपास के 5-6 गांवों में करीब 300 घरों को निशाना बनाया। प्रशासन के मुताबिक करीब तीन सौ घरों को नुकसान पहुंचा है। आग लगते ही लोग घरों से बाहर निकल आए मदद के लिए इधर-उधर भागने लगे। पड़ोस के जिले समस्तीपुर से भी मदद मांगी गई है।

तेज पछुआ हवा के साथ अगलगी की घटनाओं ने उत्तर बिहार के लोगों की कमर तोड़ कर रख दी है। यहां आग का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। लगातार पांचवें दिन मंगलवार को भी 1500 से अधिक लोगों के घर जल गए। सैकड़ों एकड़ फसल भी आग के हवाले हो गई। वाल्मीकिनगर जंगल का भी 100 हेक्टेयर हिस्सा आग की लपटों से राख हो गया। इन घटनाओं में चार बच्चों समेत आठ लोगों की मौत हो गई।


दरभंगा में करीब दो सौ घर जलकर गये। बहेड़ी के रूपौलिया गांव में करीब डेढ़ सौ घर जलकर राख हो गये। एक दर्जन से अधिक पशु भी झुलस कर मर गये। बेनीपुर के रमौली में गांव में मो. हुसैन उर्फ खोखाई के घर जल गए। मनीगाछी प्रखंड के कनौर गांव में करीब 22 घर जल गये। कुशेश्वरस्थान के सनहोली गांव में शाम करीब 4 बजे हुई अगलगी में डेढ़ दर्जन घर जलकर राख हो गये।

मुजफ्फरपुर में भी 300 से अधिक घर जल गए। पारू के तीन अलग-अलग गांवों में 195 घर जले। 50 साल की महिला की झुलस कर मौत हो गई। कुढ़नी के तुर्की में शॉर्ट सर्किट से एक एकड़ फसल जल गई। सुमेरा में पांच घर जल गए। रामपुर काशी में 22 घर व मोतीपुर के जसौलिया में 10 घर जल गए। सरैया के बहिलवारा भुआल व पोखरैरा में छह घर राख हो गए। सकरा के केशोपुर में भी एक घर जल गया। गायघाट के हरिपुर में छह घर व कांटी के बंगरा में तीन घर जल गए। मुशहरी में हुई अगलगी में 60 घर जल गए और झुलसने से एक बच्चे की मौत हो गई।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top