Home > Archived > 9 सूरमाओं के शव लाये गये दिल्ली, सेना प्रमुख ने किया सलाम

9 सूरमाओं के शव लाये गये दिल्ली, सेना प्रमुख ने किया सलाम

 Special News Coverage |  15 Feb 2016 1:05 PM GMT

103431-460610-siachen
नई दिल्ली
सियाचिन में हिमस्खलन की चपेट में आने से शहीद हुए 9 सैनिकों के शव लेह से राजधानी दिल्ली लाए गए। मौसम साफ न होने की वजह से रविवार को सैनिकों के पार्थिव शरीर दिल्ली नहीं लाए जा सके थे।

इसे भी पढ़ें सियाचिन के जांबाज लांस नायक हनुमंतप्पा का निधन, सुबह 11:45 पर ली अंतिम सांस

सेना के एक प्रवक्ता के मुताबिक रविवार को मौसम के साफ होने पर सेना के हेलीकॉप्टरों के जरिये सियाचिन में शहीद हुए नौ सैनिकों के शव बेस कैंप के नजदीक स्थित हवाई पट्टी लाए गए थे। प्रवक्ता ने बताया कि शुक्रवार को भी तीन बार शव लाने की कोशिश की गई जो खराब मौसम के चलते नाकाम रही थी।


इसे भी पढ़ें सियाचीन में चमत्कारः 5 दिन बाद जिंदा मिला सेना का जवान

मालूम हो कि मद्रास रेजीमेंट के एक जूनियर कमीशन प्राप्त अधिकारी और नौ अन्य सैनिक तीन फरवरी को हिमस्खलन में जिंदा दफन हो गए थे। इसी हादसे में कर्नाटक स्थित धारवाड़ जिले के लांस नायक हनुमनथप्पा छह दिन बाद 35 फीट बर्फ के नीचे से जीवित निकाले गए थे लेकिन उनकी नई दिल्ली में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। जबकि नौ अन्य के शव नौ फरवरी को बरामद हुए।

इसे भी पढ़ें सियाचिन में हिमस्खलन से 10 जवान लापता, सर्च ऑपरेशन जारी

3 फरवरी को एवलांच की वजह से सियाचिन में तैनात कुल 10 जवान शहीद हो गए थे। शहीद लांस नायक हनुमनथप्पा कोपड़ जिंदा बचे थे, लेकिन हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया था। जिन 9 शहीदों की पार्थिव देह दिल्ली लाई गई है, उनमें तमिलनाडु के चार, कर्नाटक के दो, आंध्र प्रदेश, केरल और महाराष्ट्र का एक-एक जवान शामिल है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top