Top
Home > Archived > यूपी: 9 साल के लड़के पर 6 साल की बच्ची से रेप का आरोप, मुकदमा दर्ज

यूपी: 9 साल के लड़के पर 6 साल की बच्ची से रेप का आरोप, मुकदमा दर्ज

 Special News Coverage |  3 Oct 2015 5:10 AM GMT

minor girl rape



पीलीभीत : बलात्कार जैसी घटनाएं समाज में इस कदर से फैल गयी हैं कि अब छोटे बच्चे भी इससे अछूते नहीं रहे और इस तरह के घिनौने कृत्य में लिप्त पाये जाते हैं। मौजूदा घिनौनी घटना उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले के न्यूरिया का है। यहां पुलिस ने कक्षा चार में पढ़ने वाले नौ साल के एक बच्चे पर छह साल की एक बच्ची के साथ रेप करने के मामले में 376 का मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस के मुताबिक, गुरुवार से आरोपी लड़का अपनी फैमिली के साथ फरार था। शुक्रवार को पकड़े जाने के बाद उसका रिएक्शन था, "खेल-खेल में हो गया"। फिलहाल उसे मजिस्ट्रेट के ऑर्डर पर बरेली के जुवेनाइल होम में रखा गया है। पीड़ित बच्ची का मेडिकल भी कराया गया है। पुलिस के सर्कल ऑफिसर निर्मल बिष्ट ने बताया कि शुरुआती मेडिकल टेस्ट में लड़की से रेप की पुष्टि हुई है।


न्यूरिया थाना क्षेत्र की एक महिला छह वर्षीय बेटी को साथ लेकर शाम करीब साढ़े चार बजे थाना पहुंची। उसने पुलिस को बताया कि पति बाहर मजदूरी करने गए हैं। उसके घर और परचून की दुकान के बीच में गन्ने का खेत है। गुरुवार की सुबह करीब 10 बजे उसकी पुत्री परचून की दुकान पर चीनी लेने गई थी। वापस आते समय गांव के ही एक लड़के ने बच्ची को गन्ने के खेत में पकड़कर ले गया और उसके साथ बलात्कार किया।

किसी तरह घर पहुंची बच्ची ने मां को पूरी बात बताई। इस पर परिवार वालों के साथ वह बेटी को लेकर थाने पहुंची। पुलिस का कहना है कि आरोपी की आयु करीब नौ वर्ष है। हालांकि पीड़ित की मां के मुताबिक आरोपी की उम्र 11 या 12 साल हो सकती है।



style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




लड़के ने कुबूला अपना जुर्म
मामले की जांच कर रहे सर्किल ऑफिसर, निर्मल बिष्ट ने बताया, "हमने आरोपी बच्चे को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया था। मजिस्ट्रेट ने उसे बरेली के जुवेनाइल होम भेज दिया है। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। आरोपी की सही-सही उम्र का पता लगाया जा रहा है। हालांकि, उसकी उम्र 9 या 10 साल से ज्यादा नहीं हो सकती।" न्यूरिया पुलिस स्टेशन के एसओ दलबीर वर्मा ने का कहना है कि ये मामला अपने आप में अजीब है।

क्या है एक्सपर्ट की राय?
ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक एसोसिएशन की स्टेट प्रेसिडेंट मधु गर्ग के मुताबिक, "मौजूदा हालात को देखते हुए हमें बच्चों को अच्छे तरीके से सेक्स एजुकेशन देने और उनकी काउंसलिंग करने की जरूरत है। जुवेनाइल क्राइम के तहत रेप के मामलों में अक्सर पाया गया कि जिन बच्चों ने ऐसा जुर्म किया, उन्होंने काफी कम उम्र में अपने मां-बाप या बड़ों को सेक्सुल रिलेशन बनाते हुए देखा था। ये चीज बच्चों को कम उम्र में ही सेक्स के लिए आकर्षित करती है। बाद में ऐसे मामले सामने आते हैं।"


href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">



स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it